नागेश्वर ज्योतिर्लिंग

देश: इंडिया

राज्य : गुजरात

इलाका / शहर / गांव:

पता :Daarukavanam, Devbhoomi Dwarka, Gujarat 361345, India

परमेश्वर : शिव

वर्ग : प्राचीन मंदिर

दिशा का पता लगाएं : नक्शा

img

नागेश्वर ज्योतिर्लिंग

नागेश्वर ज्योतिर्लिंग भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है, जिसका विवरण शिवपुराण में भी किया गया है। भगवान शिव के मंदिरों में यह पहला मंदिर है जिसका विवरण शिवपुराण में किया गया है। पुराणों के अनुसार - दारुका नाम का एक  भयानक राक्षस था और भगवान शिव और पार्वती का एक बड़ा भक्त था। वह जंगल के हाथियों को परेशान करता था और इसलिए देवों ने  उस राक्षस पर हमला किया था। देव के हमले से डरते हुए दारुका ने समुद्र को उठा लिया और इसे समुद्र के बीच में रखा। और बहुत ही अत्याचार करने लगा। भगवन शिव द्वारा तपश्विनी सुप्रिय को दर्शन देकर उसे अपना पाशुपत-अस्त्र भी प्रदान किया। इस अस्त्र से राक्षस दारुक तथा उसके सहायक का वध करके सुप्रिय शिवधाम को चला गया।  उसके बाद भगवान्शिव के आदेशानुसार ही इस  स्थान पर ज्योतिर्लिंग  की स्थापना कर नाम नागेश्वर पड़ा।

शिव पुराण के अनुसार नागेश्वर ज्योतिर्लिंग दारुकावनमें है, जो भारत में जंगलो का प्राचीन नाम हुआ करता था। दारुकावनका उल्लेख हमें महाकाव्य जैसे कम्यकावना, दैत्यावना और दंदकावना में भी दिखाई देता है।

नागेश्वर ज्योतिर्लिंग जहाँ बना हुआ है वहाँ कोई गाँव या शहर नही है बल्कि यह मंदिर द्वारका से दूर जंगलो में बना हुआ है। वर्तमान में नागेश्वर मंदिर परिसर में भगवान शिव की विशालकाय मूर्ति भी बनी हुई है, जो तीर्थयात्रियो के आकर्षण का भी मुख्य केंद्र है। इस मंदिर का अद्भुत रूप निश्चित रूप से देखने लायक है और शिवभक्तो के लिए तो यह मंदिर कैलाश पर्वत से कम नही।

 

कैसे पहुंचा जाय मंदिर तक:

मंदिर द्वारका शहर से 16 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और इसलिए किसी भी सार्वजनिक परिवहन द्वारा मंदिर तक आसानी से पहुंचा जा सकता है।

इतिहास:

मंदिर शिविरों से भरा है लेकिन मंदिर के मध्य भाग में एक विशाल ज्योतिर्लिंग है। इस लिंग पर भगवान शिव हमेशा पक्षियों के झुंड से घिरे रहते हैं, लोग उन्हें भी खिलाते हैं क्योंकि इसे भगवान शिव की भक्ति और समर्पण का कार्य माना जाता है।

पूजा समय

सोमवार से रविवार

प्रातः काल:- 05.00 बजे 

सांय काल:- 06:00 बजे

इतिहास

पूजा समय

दिन सुबह शाम
Monday-Sunday 05.00 Am 06:00 Pm

नक्शा

अपनी टिप्पणी दर्ज करें

संबंधित मंदिर


More Mantra × -
00:00 00:00