अगस्त 2017 मासिक राशिफल

अगस्त 2017 मासिक राशिफल

अगस्त को प्रणय और मधुर  बेला का मौसम कहा जाता है. ये मौसम , ये समय सब कुछ धरती पर और भी सकारात्मक ऊर्जा को लाने में मदद करता है. आप अपने राशि चिन्ह को देखिये की आने वाला महिना आपके बारे में क्या कहता है. अपनी उंगलियों को क्रॉस कीजिये और अपनी आने वाली जिंदगी का  दृढ़ता से सामना करने के लिए तैयार हो जाइये.

मेष राशि

इस महीने आप अपने आमदनी को बढ़ाने और अपने खर्चो को कम करने के लिए व्यग्र होंगे. अनिष्टकारी केतु के साथ पूर्ण चंद्रमा आता है तो इसका प्रभाव आपके लम्बे समय से रुके हुए कार्यो के समाधान पर होगा. आपको यहाँ कुछ धन- सम्बन्धी लाभ हो सकते है. लेकिन , जो धीमे बढ़ोतरी है और बुध के पीछे हटने की दशा में आपको अपने कार्यो पर नजर रखने की जरूरत है. अपने कमजोर क्षेत्रो और जगहों को भरने के लिए आत्मविश्लेषी होकर अपनी रणनीति फिर से बनाइए. मंगल कुछ-कुछ समयों पर आपको बेचैन और अधीर बना देगा. लेकिन गणेश जी सलाह देते है की आप स्थिरता बनाये रखिये और सही तरीके से सोचने के लिए खुद को शांत कीजिये.  अगले दो सप्ताह में , आप चंद्रमा के मजबूत पकड़ में आ जायेंगे. उच्च स्थान का चंद्रमा , शुक्र के साथ अपनी स्थिति बदल कर आपके भाग्य को प्रोत्साहित करेगा. तीसरे सप्ताह के शुरुआत में नव-चंद्रोदय होता है.  इस सप्ताह का चंद्रमास विशेष रूप से शक्तिशाली होगा क्यों की यह अपने स्वाभाविक स्थायी स्थान में उग्र सिंह राशि में होगा. अस्त मंगल और राहू नये चंद्रमा के साथ होंगे. यह आपको उग्र बना सकता है और आपको आगे बढने के लिए दृढ़ निश्चयी करेगा. लेकिन कठिनाईया और राह में आने वाली रूकावटे आपको निराश करेंगी. छोटे – छोटे बातों पर अपना ध्यान न दे , इससे आप रास्ता भटक सकते है. आप इस मनःस्थिति से जल्द ही बाहर निकल जायेंगे और एक नए सिरे से कोशिश करेंगे. गणेश कहते है की सोचा – समझा हुआ कदम उठाये  केवल अपने सहज ज्ञान पर ही ना रहे. जैसे महीना खत्म होने को आएगा ऐसा पूर्वानुमान है की आपको कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है विशेष रूप से किसी को व्यवसाय में. ग्रहों की स्थिति के अनुसार , आपको यह सलाह है की समय पर कार्यो को खत्म करने के लिए कुछ अपनी विशिष्ट गुणों और रचनात्मक गुणों का प्रयोग करे. घरेलू मामलों में जिसके लिए आप जिम्मेवार नही होंगे वहां आपको अकारण ही दोषी ठहराया जायेगा. अपने बचाव के लिए क्रोध में ना आये. जैसे ही सच सामने आएगा , समस्याए खुद-ब-खुद सुलझ जायेंगी. अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें. छोटे-से- छोटे स्वास्थ्य सम्बन्धी चीजों को नजरंदाज न करे. महीने के अंत में , बुध फिर से उग्र सिंह राशि में प्रतिकूल स्थिति में प्रवेश करेगा.

 वृष राशि

अगर आप अपने आय के रास्तों को बढ़ाना चाह रहे है तो , दिल से कोशिश करे. अतिरिक्त धन कमाने के अवसर आने वाले है. नव-चंद्रोदय इस मौके को बढ़ाने के लिए प्रगाढ़ जोश के साथ इसे प्रभावित करेगा और मंगल इसपर कार्य करने के रास्ते खोलेगा. साथ-ही-साथ आपका गृहस्वामी शुक्र कर्क राशि की और बढ़कर आपको अपने रचनात्मक कार्यो जैसे नृत्य , नाटक और पेंटिंग ( चित्रकला ) की और जाने के  लिए प्रेरित करेगा. ऐसा प्रतीत हो रहा की यह आपके संपर्क क्षेत्रों को भी ताजा करेगा. गणेश जी का ये कहना है की अच्छा संपर्क क्षेत्र जीवन में सफलता , कार्यो और संबंधो की कुंजी है जो कई संभावनाओं को तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. जैसे ही दूसरा सप्ताह शुरू होगा, आप अपने आगे बढने के मौको के लिए बुद्धिमतापूर्ण रास्तों को तलाशेंगे. बड़े स्तर पर अपनी कला को प्रदर्शित करने के लिए कुछ प्रलोभक मौके मिलेंगे. वृहस्पति आपके जीवन की परेशानियों को सुलझा कर आपको संतोष प्रदान कर सकते है. हालांकि कुछ अच्छे लगने वाले अवसरों को देख कर अपना ध्यान भटकने के बजाए जो आप कर रहे है उसपर ही ध्यान लगाये रखे. नए चंद्रमा के पूर्ण होने तक , सिंह राशि , मंगल और राहू आपके कार्य में विविधता लाने की कोशिश नही करेंगे. गणेश सलाह देते है की याद रखे महान उपलब्द्धि धीरज और दृढ़ता से प्राप्त होती है. आने वाले दिनों में आपको अपने तरीके से काम करने के लिए  कष्टकर परिस्थितियों को पार करना पड़ेगा. लेकिन , आशा रखे ! आगे आपके सितारे अच्छे नजर आ रहे है. आगे के कार्यो में होने वाले कष्टों को शनि की दशा ठीक करेगी . अंतिम सप्ताह में ग्रहों की स्थिति आपके लिए लोगों से मिलने और सामाजिकता के अवसरों को लाएगी. जैसे ही आप मजे करेंगे और अपने तनाव को कम करेंगे , आपके सोचने और समझने तथा काम करने के तरीके में स्पष्टता आएगी. ये आपके आत्मविश्वास को बढ़ाएगा. मंगल और हानिकारक केतु एक-दुसरे के करीब आयेंगे तो आपको अब और भी प्रतिस्पर्धात्मक बनने के लिए प्रेरित करेंगे और आपको अपने आगे बढने के इच्छित स्तर तक लाने के लिए और भी बेहतर बनायेंगे. अगर परिणाम में देरी हो रही है तो निराश मत हो. कभी-कभी मनचाहे परिणाम आँखों से बहुत दूर होते है. करीबी रिश्तों की दूरियाँ खत्म होकर सौहार्दपूर्ण हो जायेंगी.

मिथुन राशि

आप अपनी रणनीतियों को सम्पूर्ण , प्रभावाकरी और कार्य-योजनाओं के प्रति उन्मुख होकर उन्हें कार्यान्वित करने के लिए उत्सुक होंगे. 9 वें स्थान में अनिष्टकारी केतु के साथ पूर्ण चंद्रमा का कुंभ राशि में उदय सितारों को आपके साथ में लायेगा. आप अपनी संभावनाओ को बढ़ाने के लिए और दौड़ में शामिल होने लिए उत्सुक होंगे. शुक्र आपको आपके वित्तीय स्थिति को मजबूत करने में सहायता कर सकता है. लेकिन कुछ अन्य ग्रह-विन्यास (ग्रहों की स्थिति) बाधाओं को आपके आगे खड़ा करेंगे. विरोधी शनि आपके राशि के विपक्ष में जाकर आपको आगे बढने की अनुमति नही देगा. दुसरे सप्ताह के शुरुआत में , 12वें स्थान में पूर्ण चंद्रमा आपको सुख की चाह के लिए प्रेरित करेगा. गणेश जी सावधान करते है की अकलमंदी के साथ समय खर्च करे. इस समय , आपके सितारे किसी भी प्रकार के आर्थिक जोखिम उठाने के लिए आपके अनुकूल प्रतीत नही हो रहे. शायद , आपको आत्म-विश्लेषण करने और अपने वर्तमान तथा भूतकाल के कार्यो पर विचार करना चाहिए ; अपनी कमियों को नियंत्रित करे और उन क्षेत्रों पर ध्यान दें जहाँ सुधार की जरूरत है. तीसरा सप्ताह , असंगत संकेतो के अन्य दुसरे दौर को लाता है. जहा अस्त मंगल और राहू आपको आगे की ओर बढने के लिए प्रेरित करेगा वहीँ प्रतिकूल बुध आपके उन्नति में सहायक प्रतीत नही हो रहा. कुछ मुद्रा सम्बन्धी लाभ जो आपको ध्यान नही , कही का भुला-भटका हुआ धन प्राप्ति आपको खुश होने का वजह देगा. सप्ताह के मध्य में , बुध के द्वारा शासित सूर्य कन्या में स्थान परिवर्तित करेगा. यह अवश्य ही मांगलिक स्थिति को लाएगा. शनि 9वें स्थान का मालिक होकर भाग्य को आपसे जोड़ेगा. बहुत समय तक प्रतिकूल रहने के बाद शनि अब अपनी गति में आता है. महीना समाप्ति होने तक , धन की वृद्धि का प्रवाह होगा. आपके दिन-प्रतिदिन के खर्चो में ढील आएगी. अब पेशेवर लोग अपनी क्षमताओं को हितकारी रूप में उपयोग करने के लिए और भी रास्ते शुरू करेंगे. मगर गणेशा कहते है की दूर के पहलुओं पर विचार करें और जल्द लाभ को लेने से बचे. नौकरी वाले लोगो को बाहर के स्थानों के कार्यभार मिल सकते है. आप यहाँ के वातावरण का आनंद लेंगे और काम करेंगे. वृहस्पति आपको आर्थिक स्थिरता प्रदान करेगा जो आपको संतोषजनक भाव से रखेगा.

कर्क राशि

अगस्त के शुरुआत में , जो कुछ भी गलत के लिए आप अनुभव कर रहे है उसके लिए नोदित समाधान को देखेंगे. आप अपने भावात्मक तकलीफों को खत्म करने की कोशिश करेंगे जो आपको कुछ समय से परेशान किये हुए है. यहाँ आंशिक चन्द्र-ग्रहण है. और पूर्ण चंद्रमा आकाश में चमकता है. यहाँ चंद्रमा , मंगल के सीधे विपरीत में है और 8वें स्थान में केतु से नजदीक है. ये बदलाव है जो आपके मानसिक स्थिति और भावात्मक पहलुओं पर प्रभाव डाल रहा है. इन मनोभावों को नजरंदाज ना करे क्योंकि बाद के समय में ये बुरे तरीके से भड़क सकते है और आपके कार्यप्रणाली और संतुलन पर असर डाल सकते है. सकारात्मक पक्ष में , गणेश जी के भविष्यवाणी है की कुछ पैत्रिक सम्पति मिलने की बहुत अधिक संभावनाए है. हालांकि , इस अप्रत्याशित आय का उपभोग करने के पहले इसपर पूरी तरह से हक़ मिलने के लिए कुछ समय तक क़ानूनी कार्यवाही के लिए रुकना पड़ सकता है. दुसरे सप्ताह के लगभग में, आपका किसी करीबी रिश्तेदार के साथ में आमना-सामना हो सकता है. खुद को सयंमित और शांत रखने की कोशिश करे. किसी भी तरह के वाद-विवाद में पड़ने का कोई मतलब नही है. सयोंगशील बलों के प्रभाव में आने के साथ , ये मुद्दे खुद-ब-खुद अंत में सौहार्दपूर्ण ढंग से सुलझ जायेंगे. यहाँ छठे स्थान में प्रतिकूल शनि के होने से कुछ अवरोधों के लिए तैयार रहे. किसी भी बड़े आर्थिक जोखिम को उठाने का काम अभी ना करे. मध्य माह में दुसरे स्थान में सूर्य – ग्रहण के होने से आर्थिक और पारिवारिक मामलों में अच्छा शगुन नही है. अगर आपके जन्म-पत्री में ग्रहों को बताया जा रहा है तो ये ग्रहण आपके लिए फायेद्मंद भी हो सकता है.  परिप्रेक्ष्य में बदलाव के कारण लम्बे समय से रुके हुए परिवार संबंधित मुद्दों के सुलझ जाने की आशा है. महीने के अंत में दो महत्वपूर्ण ग्रह अपनी स्थिति परिवर्तित करेंगे. दुसरे गृह में शुक्र , सिंह के स्थान में जायेगा और सूर्य , कन्या के स्थान में जाकर बस जायेगा. ये परिवर्तन आपके तनाव में आराम देगा और अन्य कई चीजो को लेकर आपकी चिंता को कम करेगा. आपको आपकी किस्मत , लम्बे समय से अटके पड़े आपके धन को वापस दिलाने में मदद कर सकती है. इस समृधि का आनंद ले , लेकिन गणेश जी का परामर्श है की हमेशा खुद को एकबराबर रूप से रखे.

सिंह राशि

आप अच्छे और मजबूत संबंध के भेद को जाने के लिए उत्सुक होंगे. आने वाले दिनों में कुछ ग्रहों की स्थिति आपकी सहायता कर सकती है. आपके राशि के विरोध में आंशिक ग्रहण लग सकते है. चंद्रमा , विनाशकारी केतु के संगती में है और क्रोधित मंगल तथा चतुर शनि के प्रभाव में भी है. ये जो स्थिति है वो एक स्थायी संबंध को भी काट सकती है. हालांकि , सातवें स्थान पर वृहस्पति के सयोंगशील शक्तियाँ इन नकारात्मक प्रभावों को कम करेंगी. यहाँ कोने के आसपास सूर्य – ग्रहण की भी स्थिति दिखाई दे रही है. ये आपके व्यक्तिगत जीवन के संतुलन में परिवर्तन ला सकता है. उच्चतर विकास अभी आपकी बड़ी प्राथमिकता हो सकती है. आपके द्वारा किये गये प्रयासों का फल आपको ,  आपके कार्यकाल के दौरान ही मिलेगा. पैसे की थोड़ी तंगी यहाँ हो सकती है. ऐसा नहीं है की आपकी आय कम होगी लेकिन बिना अपने बजट को ध्यान में रखे हुए खुले दिल से खर्च करने की आपकी आदत ,आपके आर्थिक स्थिति को काफी कमजोर बना देगी , गणेश जी आपको सर्तक करते है. ग्रहों की चाल के कारण आप अपने संचित किये हुए धन में और नुकसान के लिए तैयार रहे. इस महीने , शनि सीधे तौर से गति में है. बाद में , शुक्र आपके राशि में आएगा. अंतिम सप्ताह में, सूर्य के ऊपर शनि का प्रभाव दुसरे स्थान में जाकर आपके आर्थिक स्थिति को नुकसान पहुँचाने के संभावना में है. इसे देखते हुए , पैसे सम्बन्धी मामले सम्भाले और सतर्कतापूर्वक कमाए. किसी भी उद्देश्य के लिए नए निवेश से बचे. कृपालु वृहस्पति की स्थिति और विशेष रूप से नौवें स्थान पर इसका प्रभाव , आपके किस्मत और भाग्य से संबंधित है जो कदाचित आपके विकास की संभावनाओ को बनाये रख रहा और शीघ्र ही स्त्री भाग्य आपके लिए कृपालु होगी. अपने आर्थिक योजनायें लंबी अवधी के दृष्टिकोण से बनाये और आपातकाल के लिए पर्याप्त व्यवस्था कर के रखे. और ,अपनी उपलब्धियों को लेकर डींगे न हांके. गणेश जी बताते है की ये आपके दंभ और अकड़ के लक्षण है. इसके बजाए , शालीन बने.

कन्या राशि

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here