सोमवार, सितम्बर 21, 2020
जानिए मंगला गौरी व्रत का महत्व व पूजन विधि - Mangla Gori Vrat Katha

मंगला गौरी व्रत का महत्व व पूजन विधि

पौराणिक धर्म ग्रंथों अनुसार श्रावण माह के हर मंगलवार को आने वाले व्रत को मंगला गौरी व्रत (पार्वतीजी) के नाम से ही जाना जाता...
भगवान शिव पर आधारित कार्तिगाई दीपम कथा महत्व - Kartigai Deepam Lord Shiv

भगवान शिव पर आधारित कार्तिगाई दीपम कथा महत्व

भगवान शिव पर आधारित कार्तिगाई दीपम कथा महत्व भरतीय धार्मिक ग्रंथों के अनुसार कार्तिगाई दीपम पर्व को विशेष रूप से भारत वर्ष के दक्षिण भारत...
एक कटु ह्रदय अपने मालिक का ही नुकसान करता है.

एक कटु ह्रदय अपने मालिक का ही नुकसान करता है.

मनोवैज्ञानिक तथ्य है की , “गुस्सा दर्द के विरुद्ध एक प्राकृतिक प्रतिरोधक है. जब आप किसी को कहते है की “मैं आपसे नफरत करता/करती...
char pavitr rishte

चार पवित्र रिश्तें | भगवान् तक पहुँचने के चार मुख्य मार्ग

नमस्ते! आपमें से बहुतों ने यह सुना होगा की भगवान् और देवत्व या भगवान् तक पहुँचने के चार मुख्य मार्ग (चार पवित्र रिश्तें) है जैसा...
काली जीभ ईश्वर के द्वारा एक अभिशाप या दुर्लभ बीमारी

काली जीभ का होना ईश्वर के द्वारा एक अभिशाप या फिर एक दुर्लभ बीमारी

मान्यता है कि जिन लोगो कि काली जीभ होती है उनका बोला हुआ हर एक शब्द सच हो जाता है| और यह सच है...
कामिका एकादशी उपवास (Kamika Ekadashi Fast) से कैसे धुल जाते हैं पाप

जानिए कामिका एकादशी के उपवास से कैसे धुल जाते हैं पाप कर्मों से युक्त...

जानिए कामिका एकादशी के उपवास से कैसे धुल जाते हैं पाप कर्मों से युक्त व्यक्ति के सारे पाप भारतीय धर्म ग्रंथों के अनुसार कामिका एकादशी...
भगवान विष्णु की तपस्थली भूमि – बद्रीनाथ धाम - Badrinath Dhaam

चार धामों में अदभुत भगवान विष्णु की तपस्थली भूमि – बद्रीनाथ

चार धामों में अदभुत भगवान विष्णु की तपस्थली भूमि – बद्रीनाथ भारत वर्ष के उत्तराखंड राज्य में स्थित चार धाम ( बद्रीनाथ , केदारनाथ ,...
विश्वास, क्या चमत्कार कर सकता है ?

विश्वास, क्या चमत्कार कर सकता है ?

एक अन्य खुबसूरत कथा एक दूधवाली थी, जिसका एक ग्राहक ब्राहमण पुजारी था. वह नदी के दुसरे किनारे पर रहती थी. क्योंकि नाव की सुविधा...
वासुदेव द्वादशी व्रत पर्व का विधान व उसका महत्व - Vasudev Dwadasi Vrat

वासुदेव द्वादशी व्रत पर्व का विधान व उसका महत्व

वासुदेव द्वादशी व्रत पर्व का विधान व उसका महत्व वैदिक धर्म ग्रन्थों के अनुसार वासुदेव द्वादशी व्रत पर्व द्वारकाधीश भगवान श्री कृष्‍ण के नाम से...
वर्षा ऋतु का आगमन व पितरों को सदगति दिलाती है आषाढ़ी अमावस्या Ashadi Amavasya

वर्षा ऋतु का आगमन व पितरों को सदगति दिलाती है आषाढ़ी अमावस्या

वर्षा ऋतु का आगमन व पितरों को सदगति दिलाती है आषाढ़ी अमावस्या भारतीय हिन्दू पंचांग के अनुसार  हर माह के कृष्ण पक्ष की अंतिम तिथि...

हाल के पोस्ट