रविवार, जुलाई 22, 2018
Diwali ke liye parshidh gumne vale sathan

दिवाली के लिए मशहूर घूमने वाले स्थान

‘दिवाली’ ‘चकाचौंध’ और झिलमिलाहट’ का पर्व है जो अँधेरे के ऊपर रौशनी और बुराई के ऊपर अच्छाई के जीत की मंगल-भावना का सूचक है....
janiye-2017-me-devi-durga-ka-duniya-me-kase-hoga-aagman

जानिये 2017 में देवी दुर्गा का दुनिया में कैसे होगा आगमन !

हमारे शास्त्र अत्यंत अद्भुत् जानकारियों के संग्रह है. हमलोग भौतिक सुख-सुविधा में इतने मशगूल हो गये है की हम अपने वास्तविक आकर्षण के सिंधान्तो...
छोटी दिवाली – तीसरा दिन – नरक चतुर्दशी और काली चौदस

छोटी दिवाली – तीसरा दिन – नरक चतुर्दशी और काली चौदस

दिवाली का तीसरा दिन जो 18 अक्टूबर 2017 को पड़ेगा उसे, नरक चतुर्दशी या रूपचौदस या रूप चतुर्दशी के नाम से जानते है. इसे...
दिवाली 2017 पहला दिन – गोवत्स द्वादशी और वासु बरस

दिवाली 2017 पहला दिन – गोवत्स द्वादशी और वासु बरस

बहुत से लोग यह नहीं जानते की दिवाली गौ पूजन से शुरू होती है. दिवाली का पहला दिन गायों की पूजा के लिए समर्पित...
इस दिवाली पांच फैशनेबल रंगोली जरुर आजमायें !!

इस दिवाली पांच फैशनेबल रंगोली जरुर आजमायें

दिवाली पर हमलोग अपने घरो को अनेको तरह की दीपक, रंग–बिरंगे मोमबत्तिया, सुंदर सुंदर दीयों और उत्तम प्रकार की आकर्षक रंगोलियो से सजाते है!...
शनि जयंती का महत्व – अत्यधिक भयावह ग्रह का उत्सव

शनि जयंती का महत्व – अत्यधिक भयावह ग्रह का उत्सव

शनि जयंती , शनि देव के जन्म के रूप में मान्य है जिसे शनि अमावस्या के नाम से भी जानते है. स्कन्द पुराण के...
बुद्ध पूर्णिमा का महत्व – पूर्ण जागरण का काल

बुद्ध पूर्णिमा का महत्व – पूर्ण जागरण का काल

बुद्ध पूर्णिमा बौद्धों का पर्व है जिसे गौतम बुद्ध के जन्मदिवस के रूप में मनाते है. यह मुख्य रूप से भारत में मनाया जाता...
दीवाली मंत्र: यह दिवाली जादुई शक्ति को पकड़ने का रहस्य

दीवाली मंत्र: इस दिवाली जादुई शक्ति को पकड़ने का रहस्य

दिवाली आ चुकी है और इसका उत्साह सभी के चेहरों पर साफ़ देखा जा सकता !!!! जैसा की हम सब जानते है यह त्यौहार...

कभी न खत्म होने वाली निंद्रा से देवी दुर्गा का अभ्युदय

सप्तशती देवी पूजन के नियमों की पवित्र किताब में देवी दुर्गा और नवरात्री के दौरान पालन किये जाने वाले पद्धितियो के बारे में कुछ रोचक...

कन्या पूजन का वास्तविक कारण और प्रक्रिया

परम्परागत, कनक पूजा या कन्या पूजा भी नवरात्र का एक महत्वपूर्ण भाग है. पूजा के समय में, कन्या को धरती पर माँ दुर्गा का...
Handmade Kundli
Instant Muhurat