बिहार: 7वीं बार मुख्यमंत्री बने नीतीश कुमार, तारकिशोर प्रसाद और रेणू देवी बनीं डिप्टी सीएम

पटना: नीतीश कुमार ने सोमवार को 7वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की । राजभवन में आयोजित समारोह में राज्यपाल फागू चौहान ने नीतीश कुमार को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायी। शपथ ग्रहण समारोह में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा, देवेन्द्र फडणवीस सहित भाजपा के शीर्ष नेता मौजूद थे।

Not-satisfied-with-your-name-or-number

नीतीश कुमार के साथ भाजपा विधानमंडल दल के नेता एवं कटिहार से विधायक तारकिशोर प्रसाद, उपनेता एवं बेतिया से विधायक रेणु देवी ने भी शपथ ली। यह दोनों नई सरकार के डिप्टी सीएम हैं। इन समेत बिहार में कुल 15 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली है।

किस-किसने ली शपथ?

रामसूरत राय ने ली मंत्री पद की शपथ। मुजफ्फरपुर के औराई सीट से बीजेपी विधायक। रामसूरत राय 45 हजार वोट से भी ज्यादा अंतर से जीत कर आए है। वह यादव समाज के बड़े नेता माने जाते है।
रामप्रीत पासवान ने ली मंत्रीपद की शपथ। वह बीजेपी के कोटे से मंत्री बने है। राजनगर से 3 बार विधायक बने है। वह दलित समाज से आते है। इनकी पासवान समुदाय में अच्छी पकड़ है।
अमरेंद्र प्रताप सिंह ने ली मंत्रीपदी की शपथ। यह राजपुत समाज से आते है। आरा से चौथी बार बीजेपी विधायक बने। 2012 और 2015 में विधानसभा स्पीकर डिप्टी स्पीकर रह चुके है।
बीजेपी के मंगल पांडे ने मंत्रीपद की शपथ ली। वह पहले भी नीतीश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रह चुके हैं। पार्टी में उनकी अहम भूमिका शुरु से ही रही है।
VIP पार्टी के मुकेश साहनी ने ली मंत्रीपद की शपथ। वीआईपी ने चुनाव में 4 सीटें जीती है। वह पहले महागठबंधन से चुनाव लड़ने वाले थे लेकिन सीट बटवारे को लेकर हुए विवाद के बाद वह एनडीए में शामिल हो गए। हालांकि, वह अपनी सीट से चुनाव हर गए है लेकिन उनकी पार्टी 4 सीटों पर जीत दर्ज करने में कामयाब रही है।

rgyan app


जीतन राम मांझी के बेटे संतोश मांझी ने ली मंत्रीपद की शपथ। इस चुनाव में हम पार्टी ने 4 सीटें जीती है।
फुलपरास विधानसभा सीट से जेडीयू विधायक शीला मंडल ने मंत्री पद की शपथ ली। वह पहली बार विधायक चुनी गई हैं।
अशोक चौधरी ने ली मंत्रीपद की शपथ। वह नीतीश कुमार के बेहद करीबी माने जाते है। 5वीं बार विधानसभा जीतकर आए है।
जेदयू के विजेंद्र यादव ने ली मंत्रीपद की शपथ। वह जेपी आंदोलन से राजनीति में आए। बिहार में बिजली सुधार में बड़ी भूमिका निभाई। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखगुपकर गठबंधन के साथ मिलकर 370 की वापसी चाहती है कांग्रेस, यह गुपकर नहीं गुप्तचर गठबंधन: BJP
अगला लेखलव राशिफल 17 नवंबर: आपके प्रेम और वैवाहिक जीवन की महत्वपूर्ण भविष्यवाणी