Ami Organics Listing: इश्यू प्राइस से 50% ऊपर 902 रुपए पर लिस्ट हुए शेयर, तेजी बरकरार

आज मंगलवार को बाजार में स्पेशियालिटी केमिकल कंपनी Ami Organics और विजया डायग्नोस्टिक के शेयर लिस्ट हुए. इसमें Ami Organics की शानदार लिस्टिंग हुई. वहीं विजया के शयरों की ठंडी लिस्टिंग हुई. Ami Organics कंपनी के शेयर 14 सितंबर को अपने इश्यू प्राइस से 48% प्रीमियम पर लिस्ट होने में कामयाब रहे हैं.

Ami Organics का इश्यू प्राइस 610 रुपए था. BSE पर इसके शेयरों की लिस्टिंग 47.87% ऊपर 902 रुपए पर हुई है. जबकि NSE पर इसकी लिस्टिंग 49.18% ऊपर 910 रुपए पर हुई है. लिस्टिंग के बाद भी इसके शेयरों में तेजी बरकरार है.

प्राइस बैंड 603-610 रुपये प्रति शेयर का था

स्पेशियल्टी केमिकल्स बनाने वाली Ami Organics ने अपने इनिशियल पब्लिक ऑफर (IPO) के लिए 603-610 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया था. यह IPO सब्सक्रिप्शन के लिए 1-3 सितंबर तक खुला था. इसमें 200 करोड़ रुपये के नए शेयर्स जारी किए गए और प्रमोटर्स और मौजूदा शेयरहोल्डर्स की ओर से 60.6 लाख शेयर्स का ऑफ फॉर सेल था. इसके अपर प्राइस बैंड पर कंपनी ने लगभग 570 करोड़ रुपये जुटाए हैं.

IPO से मिलने वाले फंड का इस्तेमाल कंपनी कर्ज चुकाने और वर्किंग कैपिटल की जरूरतों को पूरा करने के लिए करेगी. पिछले फाइनेंशियल ईयर में Ami Organics का रेवेन्यू बढ़कर 340.61 करोड़ रुपये रहा था. नेट प्रॉफिट 27.47 करोड़ रुपये से बढ़कर 53.99 करोड़ रुपये पर पहु्ंच गया था.

स्पेशियलिटी केमिकल्स के रिसर्च और डिवेलपमेंट के साथ कंपनी इससे जुड़ी मैन्युफैक्चरिंग भी करती है. इसने हाल ही में ही गुजरात ऑर्गेनिक्स लिमिटेड को एक्वायर किया था. यूरोप, चीन, जापान, इजरायल अमेरिका, ब्रिटेन जैसे तेजी से बढ़ने वाले मार्केट्स में कंपनी कुछ मल्टीनेशनल फार्मा कंपनियों को फार्मा इंटरमीडिएट्स का एक्सपोर्ट भी करती है.

astro

Sansera Engineering IPO

ऑटो कंपोनोंट बनाने वाली इस कंपनी का IPO आज यानी 14 सितंबर को खुल रहा है. इश्यू 16 सितंबर को बंद होगा. कंपनी के इश्यू का प्राइस बैंड 734-744 रुपए है. Sansera Engineering 1,282.98 करोड़ रुपए का IPO ला रही है. यह इश्यू 100 फीसदी ऑफर फॉर सेल है. कंपनी के प्रमोटर्स और मौजूदा निवेशक अपनी कुछ हिस्सेदारी बेच रहे हैं.

Sansera Engineering के कुल 16 प्लांट हैं. इनमें 15 भारत और एक स्वीडेन में है. कंपनी ऑटोमोटिव और नॉन-ऑटोमोटिव सेक्टर्स में कॉम्प्लेक्स और क्रिटिकल प्रीसिजन इंजीनियरिंग कंपोनेंट बनाती हैं. ऑटोमोटिव सेगमेंट में कंपनी 2W, PV और CV वर्टिकल्स के लिए कनेक्टिंग रॉड्स, रॉकर आर्म जैसी चीजें बनाती है. कंपनी की सबसे ज्यादा आमदनी कार के इंटर्नल कम्बशन इंजन से जुड़े कंपोनेंट बनाने से होती है. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखMahalakshmi Vrat 2021: आज से शुरू हो रहे हैं सोलह दिवसीय महालक्ष्मी व्रत, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजन विधि और मंत्र
अगला लेखदैनिक राशिफल 15 सितंबर 2021: वृष राशि के जातकों की बेहतर रहेगी सेहत, जानिए अन्य राशियों का हाल