कोरोना के खिलाफ सेना की तैयारी का पीएम मोदी ने लिया जायजा, CDS बिपिन रावत से की बात

देश में कोरोना की दूसरी लहर को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार नजर बनाए हुए हैं। सोमवार को पीएम मोदी ने सशस्त्र बलों द्वारा कोविड प्रबंधन में सहायता करने की तैयारियों की समीक्षा की। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत ने सोमवार को प्रधानमंत्री से मुलाकात की। रावत ने कोरोना महामारी से निपटने के लिए सशस्त्र बलों द्वारा की जा रही तैयारियों और ऑपरेशन की जानकारी पीएम मोदी को दी।

astrologi report

सीडीएस जनरल बिपिन रावत ने पीएम मोदी को जानकारी देते हुए बताया कि पिछले 2 वर्षों में सेवानिवृत्त या प्री-मेच्योर रिटायरमेंट लेने वाले सशस्त्र बलों के सभी चिकित्सा कर्मियों को उनके वर्तमान निवास स्थान के निकट कोविड सेंटरों में कार्य करने के लिए वापस बुलाया जा रहा है। अन्य चिकित्सा अधिकारी जो पहले सेवानिवृत्त हुए थे उनसे भी अनुरोध किया गया है कि वे अपनी सेवाएं चिकित्सा आपातकालीन हेल्प लाइन के माध्यम से परामर्श के लिए उपलब्ध कराएं। रावत ने ये भी बताया कि सेना के सभी संस्थानों में उपलब्ध ऑक्सीजन सिलिंडर कोविड अस्पतालों को दिए जाएंगे।

पीएम मोदी को यह भी बताया गया कि कमांड मुख्यालय, कोर मुख्यालय, डिवीजन मुख्यालय और नौसेना और वायु सेना के मुख्यालय में कर्मचारियों की नियुक्ति पर सभी चिकित्सा अधिकारी अस्पतालों में कार्यरत होंगे। सीडीएस ने पीएम को बताया किया कि अस्पतालों में डॉक्टरों की सहायता के लिए नर्सिंग कर्मियों को बड़ी संख्या में नियुक्त किया जा रहा है। पीएम को यह भी जानकारी दी गई कि विभिन्न प्रतिष्ठानों में सशस्त्र बलों के साथ उपलब्ध ऑक्सीजन सिलेंडर कोविड अस्पतालों के लिए जारी किए जाएंगे।

सीडीएस रावत ने पीएम मोदी को यह भी बताया कि वे बड़ी संख्या में चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करा रहे हैं और जहां संभव है वहां मिलिट्री मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर नागरिकों को उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही पीएम मोदी ने भारतीय वायुसेना द्वारा भारत और विदेशों में ऑक्सीजन और अन्य आवश्यक वस्तुओं के परिवहन के लिए किए जा रहे अभियानों की भी समीक्षा की।

rgyan app

पीएम मोदी ने सीडीएस के साथ इस बात पर भी चर्चा की कि केन्द्रीय और राज्य सैनिक कल्याण बोर्ड और विभिन्न मुख्यालयों में तैनात अधिकारियों को दूरदराज के क्षेत्रों में अधिकतम संभव तक पहुंच बढ़ाने के लिए दिग्गजों की सेवाओं के समन्वय किया जाए। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखअमेरिकी सरकार के बाद अब भारत की मदद को आगे आए Google और Microsoft, जानिए किस तरह दे रहे हैं राहत
अगला लेखदैनिक राशिफल 27 अप्रैल 2021:कर्क राशि वालों के करियर के लिए है बेहतरीन दिन, जानिए अन्य राशियों का हाल