Ashadh Amavasya 2021: आषाढ़ अमावस्या आज, जानें शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और पितृदोष से निजात पाने का उपाय

आज आषाढ़ कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि और दिन शुक्रवार है। अमावस्या तिथि कल सुबह 6 बजकर 46 मिनट तक रहेगी। आज आषाढ़ मास की स्नान-दान श्राद्ध आदि की अमावस्या है । यह अमावस्या दो दिनों की होगी और जब अमावस्या दो दिनों की होती है, तो पहले दिन श्राद्ध आदि की अमावस्या मनायी जाती है और अगले दिन स्नान-दान की अमावस्या मनायी जाती है। लिहाजा आज आषाढ़ मास की श्राद्ध आदि की अमावस्या है।।

आषाढ़ अमावस्या का शुभ मुहूर्त

आषाढ़ अमावस्या तिथि- 09 जुलाई 2021, शुक्रवार

अमावस्या तिथि प्रारंभ- 9 जुलाई की सुबह 05 बजकर 16 मिनट से शुरू
अमावस्या तिथि समाप्त: 10 जुलाई को सुबह 06 बजकर 46 मिनट तक

आषाढ़ अमावस्या पूजा विधि

इस दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर सभी कामों से निवृत्त होकर स्नान करें। इसके बाद भगवान सूर्य और तुलसी को अर्ध्य दें। ये दिन भगवान विष्णु का माना जाता है। इसलिए इस दिन भगवान विष्णु की विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना करे। इस दिन पितरों का श्राद्ध और तर्पण करना चाहिए। पितृ दोष से मुक्ति के लिये और अपने पितरों का आशीर्वाद पाने के लिये आज दूध, चावल की खीर बनाकर, गोबर के उपले या कंडे की कोर जलाकर, उस पर पितरों के निमित्त खीर का भोग लगाना चाहिए। भोग लगाने के बाद थोड़ा-सा पानी लेकर अपने दायें हाथ की तरफ, यानी भोग की बायीं साइड में छोड़ दें। अगर आप दूध-चावल की खीर नहीं बना सकते, तो इस दिन घर में जो भी शुद्ध ताजा खाना बना है, उसका ही पितरों को भोग लगा दें। साथ ही आज एक लोटे में जल भरकर, उसमें गंगाजल, थोड़ा-सा दूध, चावल के दाने और तिल डालकर दक्षिण दिशा की तरफ मुख करके पितरों का तर्पण करना चाहिए।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

आषाढ़ अमावस्या के मौके पर करे ये खास उपाय

  1.  अगर आपकी कोई खास इच्छा है, जो बहुत समय से पूरी नहीं हो पा रही है तो आज आप एक नारियल लेकर उसे देवी दुर्गा का नाम लेकर तोड़ दें। अन्दर से प्राप्त गिरी के 42 टुकड़े करें। 3 टुकड़े भगवान शंकर को चढ़ायें, नौ टुकड़ें छोटी कन्याओं को बांट दें। दो टुकड़े दर्जी को, दो टुकड़े माली को, दो टुकड़े कुम्हार को प्रसाद के रूप में बांट दें और चार टुकड़े अपने लिये रख कर शेष बीस टुकड़े मन्दिर में चढ़ा दें या प्रसाद के रूप में बांट दें। 
  2.  अगर आप अपने परिवार से सारी परेशानियों को मिटाना चाहते है और खुशियों को बरकरार रखना चाहते है, तो आज आप 5 लाल फूल और 5 तेल के दीपक जलाकर बहते पानी में प्रवाहित कर दें। अगर ये उपाय आप शाम को दिन छिपने के बाद करें, तो और भी अच्छा है। बाकी आप अपनी सुविधा के अनुसार कर सकते हैं।
  3. अगर आप अपने करियर को एक नई दिशा देना चाहते है, तो आज आप एक पानी वाला नारियल लें और उस पर लाल रंग का धागा सात बार लपेटकर अपने ईष्ट देव का ध्यान करते हुए बहते पानी में प्रवाहित कर दें।
  4. अगर आपके और आपके जीवनसाथी के बीच किसी न किसी बात को लेकर हमेशा खींचतान बनी रहती है, तो आज आप थोड़ा-सा दूध लेकर, उसमें एक चुटकी शक्कर मिलाकर किसी कुएं में डाल दें। अगर आपको घर के आस-पास कहीं कुआं न मिले तो घर के बाहर कच्ची मिट्टी में दूध डाल दें और उसके ऊपर थोड़ी-सी मिट्टी डाल दें।
  5. दि आप पर घर-परिवार की बहुत अधिक जिम्मेदारियां हैं, लेकिन आर्थिक समस्या के चलते आप उन्हें पूरा नहीं कर पा रहे हैं तो आर्द्रा नक्षत्र में रात को सोते समय अपने सिरहाने पर चन्दन का छोटा-सा टुकड़ा रख कर सोएं और सुबह उस चन्दन को राहु के मंत्र का जाप करते हुए किसी धार्मिक स्थल पर दान कर दें | मंत्र है-‘ऊँ भ्रां भ्रीं भ्रौं स: राहवे नम:’ अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखAaj Ka Panchang 9 July 2021: जानिए शुक्रवार का पंचांग, शुभ मुहूर्त, राहुकाल, सूर्योदय-सूर्यास्त का वक्त
अगला लेखStock Market: शेयर बाजार में गिरावट! सेंसेक्स 323 अंक टूटकर 52,245 पर कर रहा कारोबार, निफ्टी में 90 अंकों की गिरावट