जापान के PM योशिहिदे सुगा ने कहा- ‘जापान-चीन के बीच स्थिर संबंध क्षेत्र के लिए जरूरी’

जापान के नए प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने कहा कि उनके और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच शुक्रवार को हुई बातचीत में दोनों देशों के बीच सम्मेलन और उच्च स्तरीय बैठकों के साथ निकटता से काम करने की सहमति बनी है। सुगा ने चिनफिंग के साथ फोन पर बातचीत के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैंने (शी को) बताया कि जापान और चीन के बीच संबंधों में स्थिरता न केवल दोनों देशों के लिए बल्कि क्षेत्र के लिए और अंतरराष्ट्रीय जगत के लिए भी जरूरी है।’’ आइए जानिए दीपिका पादुकोण.

सुगा ने हाल ही में देश की कमान संभाली है और चीन के राष्ट्रपति के साथ प्रधानमंत्री के तौर पर यह उनकी पहली बातचीत है। जिनपिंग का अप्रैल में जापान की यात्रा का कार्यक्रम था लेकिन कोरोना वायरस संक्रमण के चलते यह यात्रा स्थगित कर दी गई थी साथ ही हांगकांग पर नियंत्रण को लेकर चीन की कड़ी नीतियों का जापान के सत्तारूढ़ दल के भीतर विरोध शुरू हो गया था और यात्रा का विरोध होने लगा था।

rgyan app

जिनपिंग की संभावित यात्रा के संबंध में पूछे जाने पर सुगा ने कहा, ‘‘हमने उनकी जापान की संभावित यात्रा के बारे में कोई बातचीत नहीं की।’’ उन्होंने कहा कि दोनों नेता द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर उच्च स्तरीय बैठकें करने और सम्मेलन आयोजित करने पर सहमत हुए हैं। Reach out to the best Astrologer at Jyotirvid.

गौरतलब है कि अमेरिका के साथ संबंधों में बेहद तनाव के बीच चीन के जापान के साथ रिश्तों में हाल ही में सुधार हुआ है। चीन की समाचार समिति शिन्हुआ ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि शी ने संबंधों में सुधार की बात को स्वीकार किया है और कहा है कि चीन आपसी हितों के क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के लिए सुगा सरकार के साथ मिलकर काम करने को तैयार हैं, साथ ही संवेदनशील मुद्दों सहित अतीत के मसलों पर भी काम करने को दोनों तैयार हैं। इससे पहले सुगा ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से बातचीत करके ‘‘स्वतंत्र और निर्बाध हिंद प्रशांत क्षेत्र’’ के लिए मिलकर काम करने की इच्छा व्यक्त की थी। और अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here