राम मंदिर परिसर के निर्माण में आप भी बन सकते हैं भागीदार, ट्रस्ट को भेजिए डिजाइन

राम मंदिर का निर्माण शुरू होने के बाद राम मंदिर परिसर को भव्य और दिव्य बनाने के लिए ट्रस्ट ने लोगों से डिजाइन और आइडिया मांगे हैं. 70 एकड़ में बनने वाले राम मंदिर परिसर के निर्माण में पसंदीदा और चुनिंदा डिजाइन को लागू किया जाएगा. आइए जानिए आपके शहर में कब निकलेगा चांद. आइए जानिए आपके शहर में कब निकलेगा चांद.

श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्यों ने पिछले सप्ताह एक मीटिंग के बाद आम लोगों से परिसर को विकसित करने के लिए डिजाइन आमंत्रित किया है.

परिसर में पुष्कर्णी, यज्ञ मंडपम, अनुष्ठान मंडपम, कल्याणा मंडपम का निर्माण होगा, इसके लिए डिजाइन और आइडिया मांगे गए हैं.

ट्रस्ट ने विज्ञापन में कहा है कि ये डिजाइन वास्तु पर आधारित होने चाहिए. परिसर में 51 छात्रों के लिए गुरुकुल का भी निर्माण किया जाएगा, इसके लिए भी लोगों से विचार मांगे गए हैं.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

अभी मौजूद पौराणिक स्थल जैसे की नल नील टीला, सीता की रसोई, कुबेर टीला और अंगद टीला को भी मुख्य निर्माण स्थल से जोड़ने के लिए डिजाइन और विचार मांगे गए हैं. ट्रस्ट ने मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिए किए जा रहे निर्माण के लिए भी डिजाइन मांगे हैं.

विश्व हिन्दू परिषद ने कहा है कि श्री राममंदिर का डिजाइन तो फाइनल हो चुका है, अब 70 एकड़ के परिसर की बारी है. इसके मास्टरप्लान हेतु आप भी 25 नवम्बर तक राम मंदिर ट्रस्ट को निम्नलिखित मेल पर अपने सुझाव भेज सकते हैं. Reach out to the best Astrologer at Jyotirvid.

ट्रस्ट ने कहा है कि यह सुझाव परिसर के विभिन्न आयामों जैसे धार्मिक यात्रा, संस्कृति, विज्ञान आदि को समाहित करते हुए होने चाहिए. इससे सम्बंधित सभी जानकारी ट्रस्ट की वेबसाइट पर उपलब्ध है. सुझावों को स्वीकार अथवा अस्वीकार करने का अंतिम फैसला ट्रस्ट का होगा. और अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here