क्या बंद हो जाएंगे 100 रुपये के पुराने नोट? जानिए RBI का जवाब

नई दिल्ली: RBI Update on Rs 100 old notes: क्या पुराने 100 रुपये के नोट चलना बंद हो जाएंगे? कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में चल रही इस खबर को लेकर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने सफाई दी है. रिजर्व बैंक (RBI) ने कहा है कि 100 रुपये के पुराने नोट बंद हो जाएंगे ये सिर्फ एक अफवाह है. RBI के अधिकारियों के मुताबिक बैंकों से कहा गया है कि 100 रुपये के नोट जो 2005 के पहले से हैं, उन्हें सर्कुलेशन से बाहर कर उनकी जगह पर नए 100 रुपये के नोट दिए जाएं. इन पुराने नोटों को डिनोटिफाई (Demonetisation) या बंद नहीं किया जा रहा है.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

पुराने 100 रुपये के नोटों पर RBI की सफाई

दरअसल, मैंगलोर में हुई RBI की AGM में रिजर्व बैंक ने बैंकों से कहा है कि वो ‘Clean Note Policy’ को फॉलो करें, यानी साफ सुधरे नोटों को ही सर्कुलेशन में रखे. रिजर्व बैंक के अधिकारियों ने बताया कि ये निर्देश सिर्फ बैंकों के लिए है, इसलिए लोगों को इससे परेशान होने की जरूरत नहीं. RBI के अधिकारियों ने साफ साफ कहा है कि

  1. पुराने नोट बदलने की कोई जरूरत नहीं
  2. मार्च के बाद भी 100 रुपये का नोट Denotify नहीं होगा यानी वैध रहेगा और बंद नहीं होगा
  3. नोट तभी बदला जाएगा जब वो फटा होगा
  4. पुराने से नए नोट बदलना बैंकों के लिए एक सामान्य प्रक्रिया है

RBI ने कहा कि किसी को भी मार्च के पहले अपने 100 रुपये के पुराने नोट बैंकों में देने की जरूरत नहीं है. सभी 100 रुपये के पुराने नोट मार्च के बाद भी वैध रहेंगे और चलते रहेंगे. ये निर्देश केवल बैंकों को दिया गया है कि वो पुराने नोटों को RBI को देकर बदल लें.

RBI पुराने नोट क्यों बदलता है?

दरअसल ये कोई नई बात या नई प्रक्रिया नहीं है. पुराने नोट बदलकर नए नोट देना बैंकों के लिए के बेहद सामान्य प्रक्रिया है. इसे ‘नोटबंदी’ (Demonetisation) नहीं कहना चाहिए. 2016 की नोटबंदी में 100 रुपये के पुराने नोटों को लोगों के हितों को ध्यान में रखते हुए जारी किया गया था. इन पुराने नोटों को बैंक अब चरणबद्ध तरीके से नए नोटों से बदल रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक, इसी को लेकर रिजर्व बैंक ने बैंकों से प्रक्रिया में तेजी लाने को कहा था.

rgyan app

इधर, 10 रुपये के सिक्के रिजर्व बैंक के लिए सिरदर्द बन चुके हैं. 10 रुपये का सिक्का आज से 15 साल पहले लाया गया था, लेकिन दुकानदार और कारोबारी आज भी इसको लेने से इनकार कर रहे हैं. इसकी वैधता को लेकर अफवाह फैलाई जाती है. जिसकी वजह रिजर्व बैंक के पास 10 रुपये के सिक्कों का पहाड़ खड़ा हो गया है. इस पर आरबीआई ने कहा है कि सभी बैंक को 10 रुपये के सिक्के के बारे में लोगों को जागरुक करना चाहिए कि इस सिक्के को बंद करने की कोई योजना नहीं है और न ही नकली सिक्के का कोई खतरा है. 10 रुपये की कीमत का सिक्का पहले की तरह ही बाजार में चलता रहे, इसके लिए बैंक को हर संभव कोशिश करनी चाहिए. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतzeenews.india.com
पिछला लेखलव राशिफल 24 जनवरी 2021: मिथुन और सिंह राशि के लोगों का भाग्य देगा साथ, पढ़ें शनिवार का राशिफल
अगला लेखअसम में गरजे केंद्रीय गृह मंत्री Amit Shah, कहा- सेमीफाइनल जीता, अब फाइनल जीतना है