हमेशा खुश रहने के लिए मनुष्य को करना होगा ये एक काम, वरना जिंदगी भर बहाते रह जाएंगे आंसू

आचार्य चाणक्य की नीतियां और विचार भले ही आपको थोड़े कठोर लगे लेकिन ये कठोरता ही जीवन की सच्चाई है। हम लोग भागदौड़ भरी जिंदगी में इन विचारों को भले ही नजरअंदाज कर दें लेकिन ये वचन जीवन की हर कसौटी पर आपकी मदद करेंगे। आचार्य चाणक्य के इन्हीं विचारों में से आज हम एक और विचार का विश्लेषण करेंगे। आज का ये इस पर आधारित है कि जो जैसा है उसके साथ वैसा ही व्यवहार करना चाहिए।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

‘हर बात दिल पर लगाओगे तो रोते रह जाओगे, इसलिए जो जैसा है उसके साथ वैसा बनना सीखो।’ आचार्य चाणक्य

आचार्य चाणक्य के इस कथन का अर्थ है कि किसी भी बात को दिल पर नहीं लेना चाहिए। ऐसा करने वाला व्यक्ति जीवन भर दुख का भोगी रहेगा। मनुष्य को जो जैसा होता है उसके साथ वैसा ही व्यवहार करना चाहिए। असल जिंदगी में मनुष्य का सामना कई तरह के लोगों से होता है। ऐसे में जरूरी नहीं है कि सामने वाला आपके समान ही व्यवहार करे। कई बार लोग आपके मुताबिक या फिर आप जैसे नेचर के नहीं होते हैं।

rgyan app

उनका ना केवल स्वभाव अलग होता है बल्कि उनकी बातचीत करने तरीका भी अलग होता है। ऐसे में हर बात को दिल पर नहीं लगाना चाहिए। हालांकि कई लोग ऐसे होते हैं कि जिनका मन बहुत कोमल होता है। वो हर छोटी से छोटी बात को दिल पर लगा लेते हैं। इससे ना केवल उन्हें तकलीफ होती है कई बार वो दूसरों के सामने रो भी जाते हैं। उन्हें इस बात को ध्यान में रखना चाहिए कि जो जैसा है उसके साथ वैसा ही व्यवहार करना चाहिए। ऐसे में आचार्य चाणक्य का कहना है कि हर बात दिल पर लगाओगे तो रोते रह जाओगे, इसलिए जो जैसा है उसके साथ वैसा बनना सीखो। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखMeen Sankranti 2021: मीन संक्रांति के दिन सूर्य का मीन राशि में गोचर, जानें दान, शुभ मुहूर्त, महत्व से जुड़ी बातें
अगला लेखKishmish Benefits: खून में आयरन की कमी को पूरा करने और हड्डियों को मजबूत करने के लिए करें किशमिश का सेवन