Shani Mantra: शनि दोष, साढ़ेसाती या ढैय्या से हैं पीड़ित, तो इस शनि मंत्र का करें जाप

शनिवार का दिन शनि दोष, साढ़ेसाती या ढैय्या से पीड़ित लोगों को राहत देने के लिए एक अवसर है. इस दिन आप शनि देव (Shani Dev) के मंत्र का जाप करके शनि दोष (Shani Dosh), साढ़ेसाती (Sade Sati) या ढैय्या (Dhaiya) की पीड़ा से राहत पा सकते हैं. वैसे शनि देव ने भगवान शिव (Lord Shiva) को प्रसन्न करके न्यायदाता देव की उपाधि प्राप्त की थी. आप चाहें तो भगवान शिव के ओम नम: शिवाय मंत्र का जाप करके भी शनि दोष, साढ़ेसाती या ढैय्या से राहत पा सकते हैं. इसके अलावा आप चाहें तो अपने व्यवहार को बेहतर करके भी कुछ राहत पा सकते हैं. जो लोग इससे प्रभावित होते हैं, उनको उत्तम कर्म करना चाहिए क्योंकि शनि देव कर्मफल दाता हैं. कर्मों के आधार पर ही वे फल देते हैं. आइए जानते हैं कि शनि दोष, साढ़ेसाती या ढैय्या के असर को कम करने के लिए किन शनि मंत्रों का जाप करना चाहिए.

शनि मंत्र

ओम प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः

ओम शं शनिश्चरायै नमः

ओम एं ह्लीं श्रीशनैश्चराय नम:

आप इन तीन शनि मंत्रों के से किसी एक का जाप कर सकते हैं. यदि आपको किसी तरह की समस्या है, जिसके कारण मंत्र जाप नहीं कर सकते हैं, तो किसी सुयोग्य पुराहित या ज्योतिषाचार्य से इन मंत्रों का जाप करा सकते हैं. मंत्र जाप में शब्दों का उच्चारण सही होना चाहिए और मन पवित्र होना चाहिए.

श​नि देव को गरीबों को सताने वाले, दूसरो की मदद न करने वाले, झूठ बोलने वाले, पाप कर्म करने वाले, दूसरों से घृणा करने वाले लोग बिल्कुल भी पसंद नहीं हैं. यदि आपकी कुछ चीजें या व्यवहार ऐसा है, तो आप उसे बदल लें. मंत्रों का लाभ भी तभी हो सकता है, जब आप उसके अनुसार ही व्यवहार और कर्म करें. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतindia.news18.com
पिछला लेखएजुकेशन लोन: गर्ल स्टूडेंट्स के लिए कम हैं ब्याज दरें, यहां चेक करें पूरी डिटेल
अगला लेखदैनिक राशिफल 12 दिसंबर 2021: कर्क राशि वाले छात्रों के लिए अच्छा रहेगा दिन, जानिए अन्य राशियों का हाल