Home शेयर बाजार Chemplast Sanmar IPO: आज Open हो गया आईपीओ, जानिए निवेश करने से...

Chemplast Sanmar IPO: आज Open हो गया आईपीओ, जानिए निवेश करने से पहले सभी जरूरी बातें

स्पेशियालिटी केमिकल्स मैन्युफैक्चर कंपनी Chemplast Sanmar का IPO आज 10 अगस्त को खुल गया है. यह 12 अगस्त को बंद होगा. Chemplast Sanmar के IPO का प्राइस बैंड 530-541 रुपए है.

3850 करोड़ रुपए के IPO में 1300 करोड़ रुपए का फ्रेश इश्यू जारी किया जाएगा. जबकि 2550 करोड़ रुपए के शेयर ऑफर फॉर सेल में बेचे जाएंगे. फ्रेश इश्यू से जुटाई गई रकम का इस्तेमाल कंपनी नॉन-कंवर्टिबल डिबेंचर्स के पेमेंट में करेगी. ये 1238.25 करोड़ रुपए के हैं.

चेन्नई की कंपनी Chemplast Sanmar अग्रणी स्पेशियालिटी केमिकल्स मैन्युफैक्चर कंपनी है. इसका फोकस स्पेशियालिटी पेस्ट PVC (polyvinyl chloride) रेसिन के अलावा फार्मा, एग्रो-केमिकल और फाइन केमिकल्स सेक्टर्स के लिए इंटरमीडियरिज बनाती है.

क्या करें निवेशक?

पिछले तीन फाइनेंशियल ईयर से कंपनी ने लगातार प्रॉफिट दिया है. फिस्कल ईयर 2019 में कंपनी का प्रॉफिट 1.2 अरब रुपए, फिस्कल ईयर 2020 में 46.13 करोड़ रुपए और फिस्कल ईयर 2021 में 4.1 अरब रुपए का प्रॉफिट बनाया था.
इंस्टॉल्ड प्रोडक्शन कैपासिटी के हिसाब से यह स्पेशियालिटी पेस्ट PVC रेसिन में सबसे बड़ी कंपनी है. यह कास्टिक सोडा बनाने वाली देश की तीसरी सबसे बड़ी कंपनी है. जबकि हाइड्रोजन पेरोक्साइड मैन्युफैक्चरिंग में यह दक्षिण भारत की सबसे बड़ी कंपनी है.

FY20 में कंपनी का रेवेन्यू 1,259.31 करोड़ रुपये रहा था, जबकि कंपनी का प्रॉफिट 98.74 करोड़ रुपये रहा था. जबकि FY19 में कंपनी का शुद्ध मुनाफा 187.21 करोड़ रुपये था. FY20 के बाद कंपनी ने NCDs के जरिये कर्ज लिया था, जिससे कंपनी का डेट-इक्विटी रेशियो (debt-equity ratio) बढ़कर 1.42 गुना हो गया.

क्या करें निवेशक?

पिछले तीन फाइनेंशियल ईयर से कंपनी ने लगातार प्रॉफिट दिया है. फिस्कल ईयर 2019 में कंपनी का प्रॉफिट 1.2 अरब रुपए, फिस्कल ईयर 2020 में 46.13 करोड़ रुपए और फिस्कल ईयर 2021 में 4.1 अरब रुपए का प्रॉफिट बनाया था.
इंस्टॉल्ड प्रोडक्शन कैपासिटी के हिसाब से यह स्पेशियालिटी पेस्ट PVC रेसिन में सबसे बड़ी कंपनी है. यह कास्टिक सोडा बनाने वाली देश की तीसरी सबसे बड़ी कंपनी है. जबकि हाइड्रोजन पेरोक्साइड मैन्युफैक्चरिंग में यह दक्षिण भारत की सबसे बड़ी कंपनी है।

FY20 में कंपनी का रेवेन्यू 1,259.31 करोड़ रुपये रहा था, जबकि कंपनी का प्रॉफिट 98.74 करोड़ रुपये रहा था. जबकि FY19 में कंपनी का शुद्ध मुनाफा 187.21 करोड़ रुपये था. FY20 के बाद कंपनी ने NCDs के जरिये कर्ज लिया था, जिससे कंपनी का डेट-इक्विटी रेशियो (debt-equity ratio) बढ़कर 1.42 गुना हो गया.

क्या करती है कंपनी

Chemplast Sanmar में विदेशी बिलिनेयर प्रेम वत्स का बड़ा इनवेस्टमेंट है. कंपनी पेस्ट PVC, क्लोरो केमिकल्स, कास्टिक सोडा, हाइड्रोजन पेरॉक्साइड और रेफ्रीजरेंट गैस की मैन्युफैक्चरिंग करती है. यह कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरिंग सेगमेंट में भी मौजूद है.
Sanmar Group का रेवेन्यू 1 बिलियन डॉलर यानी 7300 करोड़ रुपये से अधिक है. Chemplast Sanmar Ltd पेस्ट पीवीसी, क्लोरो-केमिकल्स, कॉस्टिक सोडा, हाइड्रोजन पेरोक्साइड और रेफ्रिजरेटर गैस का उत्पादन करती है. आपको बता दें कि देश में Paste PVC का बिजनेस सलाना 10 से 13% के बीच ग्रोथ कर रहा है.

सनमार ग्रुप का हिस्सा

यह सनमार ग्रुप का हिस्सा है जो दक्षिण भारत का सबसे पुराना कारोबारी घराना है. कंपनी के मैनेजमेंट में काफी अनुभवी लोग हैं जिनका फायदा कंपनी को मिलता है. इस महीने आने वाला यह सातवां IPO है. इससे पहले अब तक देवयानी इंटरनेशनल, विंडलास बायोटेक, एक्सारो टाइल्स, कृष्णा डायगोनॉस्टिक्स, कारट्रेड टेक और नुवोको विस्टा कॉरपोरेशन के IPO खुल चुके हैं. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version