इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आपको अपनी डाइट में करने होगें बदलाव जिससे होगा कोरोना रहेगा आपसे दूर

वर्तमान समय में पूरा विश्व कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में है। ऐसे में इस प्रकोप से बचने के लिए एक बार फिर शरीर की मजबूत रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी पॉवर बढ़ाने पर बात हो रही है। विशेषज्ञों के मुताबिक, जिस महिला-पुरुष की इम्यूनिटी पावर मजबूत होगी, उसपर कोरोना वायरस काम नहीं करेगा। 

यह भी पढ़े: कोरोना वायरस से बचने के लिए, आयुर्वेदिक चीजों से आप बढ़ा सकते है इम्युनिटी

किंग जॉर्ज मेडिकल विश्वविद्यालय की प्रोफेसर डॉ़ सुजाता देव ने कहा, “प्रकृति ने हर जीवित शरीर में एक ऐसी व्यवस्था बनाई है, जो उसे नुकसानदेह जीवाणुओं, विषाणुओं और माइक्रोब्स वगैरह से बचाती है। इसे ही रोगप्रतिरोधक शक्ति या इम्यूनिटी कहा जाता है, जब बाहरी रोगाणुओं की तुलना में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर पड़ती है तो इसका असर सर्दी, जुकाम, लू, खांसी, बुखार वगैरह के रूप में हम सबसे पहले देखते हैं। रोगप्रतिरोधक शक्ति को मजबूत बनाने के लिए सर्दी का मौसम सबसे अच्छा होता है।”

उन्होंने बताया, “आहार में एंटीअक्सीडेंट की पर्याप्त मात्रा होनी चाहिए। एंटीअक्सीडेंट बीमार कोशिकाओं को दुरुस्त करते हैं और सेहत बरकरार रखते हुए उम्र के असर को कम करते हैं। विटामिन तथा जिंक रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी हैं।

हरी सब्जियों तथा फलों को विशेष रूप से भोजन में शामिल करें। भरपूर नींद तथा तनावमुक्त रहने का अभ्यास करें। सूर्य की रोशनी में सवेरे तेल मालिश करने से भी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। विटामिन-डी रोग प्रतिरोधकता के लिए महवपूर्ण कारक है। सभी खट्टे फल इम्यूनिटी बढ़ाने का काम करते हैं। सब्जियों का सूप पीना इम्यूनिटी तो बढ़ाता ही है, सर्दी-जुकाम में भी फायदा करता है। सर्दी-जुकाम-खांसी वगैरह ज्यादा दिनों तक बने रहें तो इसे सामान्य न समझें और इलाज कराएं।”

योगासन-प्राणायाम भी अच्छे उपायव्यायाम की तमाम पद्धतियों में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने की दृष्टि से योगासन और प्राणायाम सबसे अच्छे उपाय हैं।

यह भी पढ़े: क्वारंटाइन टिप्स: 3 योगासन करें घर में साथ ही पाएं पीठ और घुटने के दर्द से छुटकारा

वहीं दूसरे ओर बाबा रामदेव ने भी इंडिया टीवी के जरिए कहा था कि लोगों को अपनी इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत रखना चाहिए। इसके लिए हेल्दी खानपान के साथ-साथ योगासान करने चाहिए।