Craftsman Automation IPO: अगले हफ्ते होगा शेयरों का अलॉटमेंट, ऐसे चेक करें स्टेटस

क्राफ्ट्समैन ऑटोमेशन आईपीओ (Craftsman Automation IPO) के जरिए 824 करोड़ रुपये जुटाने जा रही है. कंपनी का IPO 17 मार्च को बंद हुआ है. इसके शेयरों का आवंटन अगले महीने फाइनल हो सकता है. जिसके बाद शेयरों की लिस्टिंग होगी. इसका इश्यू आखिरी दिन तक 3.82 गुना सब्सक्राइब हुआ था. 824 करोड़ रुपए के इश्यू में से 150 करोड़ रुपए के फ्रेश इश्यू जारी किये थे जबकि 674 करोड़ रुपए के शेयर ऑफर फॉर सेल में जारी किए गए हैं. क्राफ्ट्समैन ऑटोमेशन ट्रक और ट्रैक्टर के पुर्जे बनाती है.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

अगर आपने भी Craftsman Automation के IPO को सब्सक्राइब किया था, तो जान लीजिए कि आप ये स्टेटस कैसे चेक कर सकते हैं.

सबसे पहले रजिस्ट्रार की वेबसाइट https://kcas.kfintech.com/ipostatus/ पर क्लिक करना है.

साइट पर पहुंचने के बाद IPO (Craftsman Automation) को सेलेक्ट करें.

अब एप्लिकेशन नंबर फिल करें, DPID​​/ क्लाइंट ID केस में NSDL/CDSL को सिलेक्ट करें और DPID ​​और क्लाइंट ID दर्ज करें.

इसके बाद अपना PAN नंबर दर्ज करें.

अब कैप्चा बॉक्स के ठीक ऊपर हरे रंग में दिए गए नंबर को एंटर करें और IPO शेयर अलॉटमेंट स्टेटस जानने के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करें.

BSE की वेबसाइट पर ऐसे चेक करें स्टेटस

इसके अलावा आप BSE की वेबसाइट पर भी अलॉटमेंट स्टेटस देख सकते हैं.

इसके लिए इश्यू टाइप (इक्विटी) और इश्यू नेम (MTAR Technologies Ltd), एप्लिकेशन नंबर और पैन नंबर डालें.

अब IPO अलॉटमेंट स्टेटस जानने के लिए सर्च बटन पर क्लिक करें.

कम से कम इतने शेयर के लिए लगानी होगी बोली

इस इश्यू में आपको कम से कम 10 शेयरों के लिए बोली लगानी होगी. इस हिसाब से एक लॉट के लिए आपको मिनिमम 14,900 रुपए निवेश करना होगा. नेट इश्यू का 50 फीसदी क्वालीफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB), 15 फीसदी नॉन-इंस्टीट्यूशनल बायर्स और 35 फीसदी रिटेल कैटेगरी के लिए रिजर्व है. कंपनी के शेयर BSE और NSE दोनों पर रजिस्टर होंगे.

rgyan app

जानिए कंपनी के बारे में सबकुछ

कंपनी के इश्यू के बुक रनिंग लीड मैनेजर एक्सिस कैपिटल और IIFL Securities हैं. इस इश्यू की रजिस्ट्रार कंपनी लिंक इनटाइम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड है. Craftsman Automation 1986 में तमिलनाडु के कोयंबटूर से शुरू हुई थी. यह ऑटोमोटिव सेगमेंट के लिए पावर ट्रेन सहित कई दूसरे प्रोडक्ट्स बनाती है. इसके अलावा यह इंडस्ट्रियल और इंजीनियरिंग प्रोडक्ट सेगमेंट के लिए एल्यूमीनियम प्रोडक्ट्स भी बनाती है.

31 दिसंबर 2020 को खत्म 9 महीनों में कंपनी का नेट प्रॉफिट 50.66 करोड़ रुपए और रेवेन्यू 1,022.79 करोड़ रुपए था. IPO लाने से पहले कंपनी ने शुक्रवार को 1490 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से 16,58,447 बेचकर एंकर इनवेस्टर्स से 247.10 करोड़ रुपए जुटा लिये हैं. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखVastu Tips: घर पर बिल्कुल भी न रखें इस तरह के बर्तन, बढ़ेगा कर्ज
अगला लेखभारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के करीब 40 हजार नए केस, इस साल का सबसे बड़ा उछाल