Aaj Ka Panchang 14 June 2021: वैनायकी चतुर्थी व्रत, जानिए सोमवार का पंचांग, शुभ मुहूर्त और राहुकाल

ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि और सोमवार का दिन है। चतुर्थी तिथि रात 10 बजकर 34 मिनट तक रहेगी। उसके बाद पंचमी तिथि लग जायेगी। वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी का व्रत किया जायेगा। आप जानते ही होंगे कि एक महीने में दो चतुर्थी आती हैं, जिनमें से कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी और शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी कहते हैं। जानिए सोमवार के पंचांग में शुभ मुहूर्त, राहुकाल के साथ-साथ सूर्योदय, सूर्यास्त, चंद्रोदय, चंद्रास्त और व्रत-त्योहार के बारे में।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

आज का शुभ मुहूर्त

चतुर्थी तिथि – रात 10 बजकर 34 मिनट तक

रवि योग – सुबह 5 बजकर 11 मिनट से रात 8 बजकर 37 मिनट तक
पुष्य नक्षत्र – रात 8 बजकर 37 मिनट तक

व्रत और त्योहार

अमावस्या के बाद आने वाली शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को विनायक चतुर्थी कहा जाता है और यह हर महीने पड़ती है। इस बार वैनायकी चतुर्थी 14 जून को है। इस दिन विशेष रूप से भगवान गणेश की पूजा-अर्चना की जाती है। मान्यता है कि इस दिन भगवान गणेश की पूजा करने से व्यक्ति मनचाही सफलता पा सकता है और उसे जीवन में चल रही हर तरह की परेशानियों से छुटकारा भी पा सकता है।

सूर्योदय-सूर्यास्त, चंद्रोदय- चंद्रास्त

सूर्योदय- सुबह 5 बजकर 7 मिनट
सूर्यास्त- शाम 6 बजकर 49 मिनट
चंद्रोदय- सुबह 8 बजकर 11 मिनट
चंद्रास्त- रात 10 बजकर 11 मिनट पर

Get-Detailed-Customised-Astrological-Report-on

आज का राहुकाल

दिल्ली – सुबह 07:08 से सुबह 08:52 तक
मुंबई – सुबह 07:41 से सुबह 09:20 तक
चंडीगढ़ – सुबह 07:05 से सुबह 08:51 तक
लखनऊ – सुबह 06:56 से सुबह 08:40 तक
भोपाल – सुबह 07:16 से सुबह 08:57 तक
कोलकाता – सुबह 06:33 से सुबह 08:15 तक
अहमदाबाद – सुबह 07:35 से सुबह 09:17 तक
चेन्नई – सुबह 07:19 से सुबह 08:56 तक

अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखVastu Tips: आर्थिक समस्याओं को दूर करने के लिए सिग्नेचर में करें ये बदलाव
अगला लेखDream Interpretation: सपने में मोरपंख सहित ये 5 चीजें दिखें तो मिलता है भाग्योदय का संकेत