दिल्ली दंगा: फेसबुक के वाइस प्रेसिडेंट दिल्ली विधानसभा में तलब, भड़काऊ पोस्ट की अनदेखी का आरोप

दिल्ली दंगा मामले में दिल्ली विधानसभा की एक कमेटी ने फेसबुक के सीनियर अधिकारी को तलब किया है और उसे सफाई देने के लिए हाजिर होने को कहा है. शांति और सद्भाव पर दिल्ली विधानसभा की समिति ने फेसबुक के वाइस प्रेसिडेंट और प्रबंध निदेशक अजित मोहन को 15 सितंबर को कमेटी के सामने हाजिर होने को कहा है.

दिल्ली विधानसभा की इस कमेटी के अध्यक्ष विधायक राघव चड्ढा हैं. राघव चड्ढा ने कहा था कि कमेटी इस प्राथमिक नतीजे पर पहुंची है कि दिल्ली दंगों को भड़काने में फेसबुक का भी हाथ था. फेसबुक को आरोपी मानते हुए उसके खिलाफ जांच होनी चाहिए.

rgyan app

कमेटी ने कहा कि गवाहों की तरफ से प्रस्तुत किए गए मजबूत साक्ष्य के संबंध में समिति का मानना है कि फेसबुक को दिल्ली दंगों की जांच में सह-अभियुक्त के रूप में आरोपित किया जाना चाहिए.

अब विधानसभा की इस कमेटी ने फेसबुक को नोटिस भेजते हुए कहा है कि कुछ चश्मदीदों द्वारा दिए गए बयानों और उनके द्वारा पेश किए सबूतों के आधार पर फेसबुक को पेशी के लिए कहा गया है.

बता दें कि दिल्ली विधानसभा की शांति और सद्भावना की कमेटी ने ये एक्शन तब लिया है जब वॉल स्ट्रीट जर्नल नाम के एक अखबार ने खुलासा किया था कि फेसबुक की एक अधिकारी ने बीजेपी के एक नेता के फेसबुक पोस्ट पर एक्शन लेने से मना किया था.

दिल्ली विधानसभा की ओर से भेजे गए नोटिस में कहा गया है कि फेसबुक के वाइस प्रेसिडेंट अजित मोहन को दिल्ली विधानसभा लाउंज 1 में 15 सितंबर को 12 बजे पेश होने के लिए बुलाया जाता है. और अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें. 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here