दर्शकों का डाटा जुटाकर इस तरह हुई ‘साथ निभाना साथिया 2’ की टेस्टिंग, देवोलीना ने जारी किया टीजर

लॉक डाउन के दौरान लोगों ने अपने घरों पर क्या क्या देखा, इसका विश्लेषण करके ही अब टीवी चैनल के अधिकारी अपने नए कार्यक्रम तैयार कर रहे हैं। ओटीटी इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों का सारा डाटा इकट्ठा करके ही स्टार प्लस ने अपने चर्चित कार्यक्रम ‘साथ निभाना साथिया’ का दूसरा सीजन लॉन्च करने की तैयारी की है। शो की मुख्य अभिनेत्री देवोलीना भट्टाचार्जी ने इसका टीजर भी रिलीज कर दिया है।

अपने प्रशंसकों के बीच गोपी बहू के नाम से मशहूर देवोलीना को बिग बॉस 13 में काफी शोहरत मिली। इसके बाद वह अब जाकर टीवी पर लौट रही हैं। सोशल मीडिया पर देवोलीना ने शो का टीजर ये कहते हुए साझा किया, ‘हम लौट आए हैं जनता की बेहद मांग पर।’ इस टैगलाइन ने भी सोशल मीडिया और ओटीटी पर नजर रखने वालों को इसकी तफ्तीश के लिए प्रेरित किया है।

ओटीटी तकनीक के जानकार बताते हैं कि देश विदेश में जो कुछ भी अब इंटरनेट पर चल रहा है वह सब एक तरीके से दर्शकों व ग्राहकों की जानकारी भी जुटाता रहता है। किसने किस क्षेत्र से लॉग इन किया और कितनी देर तक क्या क्या देखा, ये सब ओटीटी की आर्टीफिशियल इंटेलिजेंस में जमा होता रहता है। ओटीटी इसी पसंद के हिसाब से न सिर्फ अपने ग्राहकों को नए पुराने कार्यक्रम होम पेज पर दिखाता रहता है बल्कि इसी डाटा का इस्तेमाल कर ओटीटी संचालक नए कार्यक्रमों की तैयारी भी करते हैं।

add
https://play.google.com/store/apps/details?id=rgyan.rgyan&hl=en_IN

‘साथ निभाना साथिया’ का पिछला सीजन 2017 में खत्म हुआ था, ये कार्यक्रम हाल ही में एकदम से सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन गया, जब इसकी एक लाइन ‘रसोड़े में कौन था’ को सोशल मीडिया पर जबर्दस्त चर्चा मिल गई। कुछ नेताओं ने टीवी बहस में भी इसका इस्तेमाल किया। इस लाइन पर मीम बने और यशराज मुखाटे नाम के मीम क्रिएटर ने तो इस पर गाना ही बना डाला। स्टार प्लस के सूत्र बताते हैं कि ये सारा जतन जानबूझकर किया गया और इससे शो की लॉन्चिंग से पहले दर्शकों के मनोभावों की टेस्टिंग भी हो गई। सोशल मीडिया और इंटरटनेट के जरिए नागरिकों के मनोभाव परखने वालों का मानना है कि भारत के अधिकतर नागरिक अब कोरोना के साथ ही जीने का मन बना चुके हैं। इनमें से ज्यादातर बाहर जाते समय सावधानियां भी बरत रहे हैं औऱ जिनको बाहर काम नहीं है वे घर पर ही रहना ज्यादा सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। कोरोना काल में टीवी और ओटीटी की दर्शकों में हुआ इजाफा टीवी और वेब सीरीज बनाने वालों के लिए नए मौके भी लेकर आया है। 

‘साथ निभाना साथिया’ को बनाने वाली टीवी प्रोडक्शन कंपनी के सूत्र बताते हैं कि इस कंपनी को कार्यक्रम का पिछला सीजन प्रसारित करने वाले चैलन स्टार प्लस से ही इस शो का दूसरा सीजन बनाने का प्रस्ताव मिला। और,ये प्रस्ताव इस शो के कोरोना संक्रमण काल में इंटरनेट पर लगातार देखे जाने से एकत्र हुए डाटा का विश्लेषण करने के आधार पर ही कंपनी को भेजा गया। ‘साथ निभाना साथिया’ टेलीविजन पर सबसे लंबे चलने वाले शोज में से एक है, इसका पहली बार प्रसारण 2010 में हुआ था।

साथ ही सितंबर मासिक राशिफल के बारे में जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतamarujala.
पिछला लेखकोरोना का साया : पितृपक्ष में घर पर नहीं करने आएंगे ब्रह्मभोज, ऐसे करें घर में श्राद्ध
अगला लेख2 सितंबर 2020: बुधवार को इन छह राशि वालों को होगा फायदा, मिलेगी बड़ी कामयाबी