एक नवंबर से 15000 श्रद्धालु कर पायेंगे माता वैष्णोंदेवी के दर्शन

जम्मू कश्मीर प्रशासन ने शुक्रवार को कहा, कि एक नवंबर से प्रतिदिन 15000 श्रद्धालुओं को माता वैष्णोदेवी धर्मस्थल पर दर्शन करने दिया जाएगा. पहले, कोविड-19 पाबंदियों की वजह से केवल 7000 श्रद्धालुओं को ही वहां जाने की अनुमति दी थी. नयी मानक संचालन प्रक्रिया में प्रशासन ने कहा, ‘‘ आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत प्रदत्त शक्तियों के तहत राज्य कार्यकारी समिति आदेश देती है कि दिशानिर्देश 30 नवंबर, 2020 तक जारी रहेंगे और बस उसमें थोड़ा बदलाव किया गया, अब एक नवंबर, 2020 से 7000 के बजाय 15000 श्रद्धालुओं को कटरा के एसएमवीडी धर्मस्थल जाने की जाने की इजाजत होगी.” आइए जानिए सरदार वल्लभ भाई पटेल के ये 10 विचार.

rgyan app

त्रिकुटा पहाड़ियों पर स्थित यह धर्मस्थल कोविड-19 महामारी के चलते करीब पांच महीने तक बंद रहने के बाद 16 अगस्त को खुला था. प्रारंभ में प्रशासन ने 2000 श्रद्धालुओं को ही अनुमति दी थी. जिसमें बाहर के बस 100 तीर्थयात्रियों को ही इजाजत थी. Reach out to the best Astrologer at Jyotirvid.

बोर्ड के अधिकारियों ने बताया, कि यात्रा पंजीकरण काउंटरों पर भीड़ को रोकने के लिए श्रद्धालुओं का ऑनलाइन पंजीकरण जारी रहेगा. भवन, अर्धकुवारी और जम्मू में बोर्ड के लॉज सभी निर्धारित एसओपी के अनुपालन के साथ खुले हैं. और अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतkhabar.ndtv.com
पिछला लेखNational Unity Day 2020: सरदार वल्लभ भाई पटेल के ये 10 विचार आज भी लोगों को करते हैं प्रेरित
अगला लेखसिविल सर्विसेज प्रोबेशनर्स से बोले PM मोदी- शीर्ष से नहीं चलती है सरकार, जनता जनार्दन ही असली ड्राइविंग फोर्स