Devshayani Ekadashi 2021: देवशयनी एकादशी से योगनिद्रा में चले जाएंगे विष्णु भगवान, जानें तारीख, शुभ मुहूर्त

हिंदू धर्म में अषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी का काफी महत्व है. इसे देवशयनी एकादशी (हरिशयनी एकादशी) भी कहा जाता है. साथ ही इसके अन्य कई नाम भी हैं. देवशयनी एकादशी 19 जुलाई की रात्रि से लग जाएगी. लेकिन उदया तिथि अगले दिन होने के कारण व्रत 20 जुलाई, मंगलवार को रखा जाएगा. पौराणिक मान्यता है कि इस दिन से भगवान विष्णु सोना शुरू करते हैं और फिर चार महीने बाद यानी कि देवप्रबोधिनी एकादशी के दिन जोकि कार्तिक माह की शुक्ल पक्ष की एकादशी को पड़ती है, के दिन जागते हैं. मान्यता है कि इस दौरान विश्व में कोई भी शुभ काम जैसे शादी, विवाह और धर्म से संबंधित अन्य संस्कार करने की मनाही होती है. इस दिन संन्यास आश्रम ग्रहण कर चुके लोगों का चातुर्मास्य व्रत शुरू होता है.

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, चातुर्मास विशेष रूप से भगवान विष्णु के शयन का काल होता है. इसी के अनुसार, देवशयनी एकादशी यानी कि 20 जुलाई को देवशयनी एकादशी पर भगवान विष्णु योगनिद्रा में चले जाएंगे. इसके बाद देव दिवाली यानी कि 15 नवंबर को कार्तिक महीने की एकादशी में भगवान विष्णु योग निद्रा से जागेंगे. उस दिन देव प्रबोधिनी एकादशी पर्व होने के साथ ही शादियों की शुरुआत हो जाएगी. यही कारण है कि देव प्रबोधिनी एकादशी शादियों का अबूझ मुहूर्त माना जाता है.

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, भगवान विष्णु जब योगनिद्रा में रहते हैं तो विश्व का कार्यभार शिव जी संभालते हैं. विष्णु भगवान जब चार महीने बाद यानी कि देवप्रबोधिनी एकादशी के दिन जब जागते हैं तो माना जाता है देवी देवता स्वर्ग से पुष्प वर्षा करते हैं और खुशियां मनाते हैं.

इस दौरान लोग मांगलिक कार्यों को करने पर जोर देते हैं क्योंकि ऐसी मान्यता है कि इस समय किए गए काम शुभ फलदायी होते हैं. देवउठनी एकादशी को देव दिवाली भी कहा जाता है. ऐसा माना जाता है कि इस दिन सभी देवी-देवता भगवान विष्णु के जागने की ख़ुशी में धरती पर आकर दिवाली का जश्न मनाते हैं.

astro

देवशयनी एकादशी मुहूर्त-

एकादशी तिथि प्रारम्भ – जुलाई 19, 2021 को 09:59 पी एम बजे
एकादशी तिथि समाप्त – जुलाई 20, 2021 को 07:17 पी एम बजे
एकादशी व्रत पारण- जुलाई 21, 05:36 ए एम से 08:21 ए एम

अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखStock Market Today: नई ऊंचाई पर पहुंचा बाजार, सेंसेक्स 53,190 के पार और निफ्टी 15,939 के रिकाॅर्ड स्तर पर
अगला लेखशिवसेना ने कहा- कांवड़ यात्रा की अनुमति देना खतरनाक, भाजपा से पूछा- पुष्कर सिंह धामी हिन्दू विरोधी हैं?