इन पांच जगहों पर कभी नहीं रुकती हैं मां लक्ष्मी, तुरंत करें ये बदलाव

अर्थशास्त्र, राजनीति और कूटनीति के मर्मज्ञ ज्ञाता कौटिल्य जिन्हें पूरी दुनिया आचार्य चाणक्य के नाम से जानती है उन्होंने कई ऐसी गूढ़ बातें पूरी दुनिया को बताई हैं जिनको मानकर आप जीवन में कभी भी मात नहीं खा सकते।

astrologi report

आचार्य चाणक्य ने बताया कि किन दुर्गुणों के कारण लक्ष्मी घर में नही रुकती है। ऐसा व्यक्ति चाहे कितना बड़ा आदमी क्यों न हो, लक्ष्मी उसके पास जाना पसंद नही करती। साथ ही लक्ष्मी का गंदगी और आलस्य से बैर होता है। इसलिए अगर आप चाहते है कि आपके जीवन में तरक्की चाहते हैं तो इन बातों का जरूर ध्यान रखें। जिससे मां लक्ष्मी की कृपा आपके ऊपर हमेशा बनी रहे।

श्लोक

कुचैलिनं दन्तमलोपधारिणं

बह्माशिनं निष्ठुपभाषितं च।
सूर्योदय चास्तमिते शयानं
विमुञ्चते श्रीर्यदि चक्राणि:।।

इस श्लोक में आचार्य चाणक्य ने बताया है कि किस जगह लक्ष्मी कभी नहीं रुकती फिर आप चाहे जितनी ही प्रयत्न कर लें या फिर साक्षात विष्णु ही क्यों न हो। आचार्य के अनुसार लक्ष्मी कभी भी वहां नही रुकती जो व्यक्ति गंदे कपड़े पहनता है, गंदे दांतो वालें के घर, अधिक भोजन करने वाले, कठोर शब्द बोलने वाले और सूर्योदय से सूर्यास्त तक सोने वाले।

गंदे कपड़े पहनने वाले

जिस घर के व्यक्ति गंदे कपड़े पहनते हैं। उस घर में कभी भी लक्ष्मी नही रुकती है। इसलिए अपने घर को साफ रखने के साथ-साथ स्वंय को भी साफ रखें। जिससे आपके ऊपर लक्ष्मी की कृपा बनी रहे ।

गंदे दांत रखनें वाले

जिस व्यक्ति के दांत गंदे होते हैं और दांतों में मैल भरा होता है। वहां पर तो लक्ष्मी किसी भी कारणवश नही रूक सकती है। इसलिए हमेशा अपने दांतों को साफ रखें।

अधिक भोजन करने वाले

जो व्यक्ति अधिक मात्रा में भोजन करता है यानि कि भुक्कड़ होता है, तो उसके घर में भी लक्ष्मी नही रुकती है। इसके साथ ही स्वास्थ्य पर भी बुरा अशर पड़ता है।

rgyan app

कठोर शब्द बोलने वाले

जो व्यक्ति दूसरों को अपने सामने कुछ नही समझता है। सभी से कठोर शब्दों में बात करता है, जिससे सुननें वाले व्यक्ति को बुरा लगता है। उस घर में कभी भी लक्ष्मी निवास नहीं करती है।इसलिए हर व्यक्ति को हमेशा मधुर वाणी बोलनी चाहिए। इससे मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी। इसके साथ हर किसी के साथ आपके रिश्ते और मजबूत होगे। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखVaisakh Month 2021: वैशाख माह हो चुका है शुरू, धन-समृद्धि और अच्छे स्वास्थ्य के लिए इस माह जरूर करें इनमें से कोई एक उपाय
अगला लेखकोवैक्सीन कोविड-19 के 617 प्रकारों को बेअसर करने में सक्षम