Home Uncategorized Durga Ashtami 2022: दुर्गाष्टमी पर करें ये अचूक उपाय, आपकी हर इच्छा...

Durga Ashtami 2022: दुर्गाष्टमी पर करें ये अचूक उपाय, आपकी हर इच्छा हो सकती है पूरी

Durga Ashtami 2022 : हिंदू पंचांग के अनुसार हर महीने के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को दुर्गाष्टमी का व्रत किया जाता है।  इस दिन मां दुर्गा के अपराजिता स्वरूप की प्रतिमा को कपूर और जटामासी युक्त जल से स्नान कराने और स्वयं आम्ररस से, यानी आम के रस से स्नान करने का महत्व है। ऐसा करने से आपके पारिवारिक जीवन में सुख-समृद्धि और खुशहाली बनी रहेगी। ऐसी मान्यता है कि इस दिन पूरी श्रद्धा के साथ जो भी व्यक्ति मां दुर्गा की उपासना करता है, देवी मां की कृपा से उसकी सभी मनोकामना पूरी होती है। इस बार मासिक दुर्गाष्टमी का पर्व 7 जुलाई 2022 को मनाया जाएगा। 

ऐसे में आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए कैसे आपके दाम्पत्य संबंधों में सुख बना रहेगा, कैसे आपके बच्चों के करियर को बेहतर गति मिलेगी, कैसे परिवार में चल रही परेशानी दूर होगी और घर में सुख-शांति आयेगी, कैसे स्वास्थ्य को लेकर चल रही परेशानी से छुटकारा मिलेगा, कैसे आपके परिवार की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी, कैसे आप अपने भय पर काबू पायेंगे, कैसे आपके जीवन की गति सुगम बनेगी और आपके जीवन में खुशियां भरेंगी, कैसे आपको सुंदर, स्वस्थ्य काया और परम सुख की प्राप्ति होगी, कैसे परिवार का सहयोग मिलेगा, कैसे आपको खूब धन-धान्य की प्राप्ति होगी और कैसे आपके बिजनेस में बढ़ोतरी होगी? 

दुर्गाष्टमी के दिन करें ये उपाय 

  1. अगर आपके प्रेम विवाह में किसी प्रकार की परेशानी आ रही है तो उस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए इस दिन आपको देवी दुर्गा के इस मंत्र का 21 बार जाप करना चाहिए। मंत्र है- ‘सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके। शरण्ये त्रयम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते।’  मंत्र जाप के बाद मां दुर्गा को इलायची का भोग लगाना चाहिए। ऐसा करने से आपके प्रेम विवाह में आ रही सारी अड़चनें अपने आप दूर होती चली जायेंगी। 
  2. अगर आप अपने दाम्पत्य संबंधों में सुख बनाए रखना चाहते हैं, तो उसके लिए इस दिन आपको सुबह स्नान आदि के बाद देवी मां को सफेद पुष्पों की पुष्पांजलि चढ़ानी चाहिए। इसके बाद दुर्गा चालीसा का पाठ करना चाहिए। अगर आप इस दिन दुर्गा चालीसा का पूरा पाठ न कर पाये तो आज के दिन दुर्गा चालीसा का कुछ हिस्सा पढ़ें और बाकी का हिस्सा अगले आठ दिनों के दौरान थोड़ा-थोड़ा करके पढ़ लें। दुर्गा चालीसा का पाठ करने से आपके दाम्पत्य संबंधों में सुख बना रहेगा।
  3. अगर आप अपने बच्चों के करियर को बेहतर गति देना चाहते हैं, आप चाहते हैं कि आपके बच्चे खूब तरक्की करें तो इस दिन आपको देवी दुर्गा के इस खास मंत्र का 11 बार जाप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है-या देवी सर्व भूतेषु विद्या रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै, नमस्तस्यै, नमस्तस्यै नमो नमः।।  जाप के बाद देवी मां के आगे घी का दीपक जलाना चाहिए। ऐसा करने से आपके बच्चों के करियर को बेहतर गति मिलेगी और उनकी तरक्की सुनिश्चित होगी। 
  4. अगर आपके परिवार में किसी प्रकार की परेशानी चल रही है, जिससे आपके घर की सुख-शांति गायब हो गई है तो इससे छुटकारा पाने के लिये इस दिन आपको 2 कपूर और 12 लौंग लेकर एक गोबर के कंडे या उपले पर जलानी चाहिए। ये उपाय करने से आपके परिवार में चल रही परेशानी दूर होगी और आपके घर में सुख-शांति बनी रहेगी।
  5. अगर पिछले कुछ दिनों से स्वास्थ्य को लेकर आपको कुछ परेशानी झेलनी पड़ रही है तो उससे बचने के लिए इस दिन आपको मां दुर्गा के इस मंत्र का 5 बार जाप करना चाहिए। मंत्र है- ‘ऊँ जयन्ती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोस्तु ते।।’  जाप के बाद माता को पांच फलों का भोग लगाना चाहिए। ऐसा करने से स्वास्थ्य को लेकर आपको जो भी परेशानी झेलनी पड़ रही है, उससे आपको जल्द ही छुटकारा मिलेगा। 
  6. अगर आप अपने परिवार की आर्थिक स्थिति को मजबूत करना चाहते हैं तो इसके लिए इस दिन आपको सुबह स्नान आदि के बाद साफ कपड़े पहनकर देवी दुर्गा की विधि-पूर्वक धूप-दीप आदि से पूजा करनी चाहिए और पूजा के समय ही एक एकाक्षी नारियल लेकर, उस पर सात बार मौली लपेटकर देवी मां के सामने रखना चाहिए। पूजा के बाद उस एकाक्षी नारियल को वहां से उठाकर अपनी तिजोरी या अपनी पैसों वाली अलमारी में रख लें। ये खास उपाय करने से आपके परिवार की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। 
  7. अगर आपको किसी चीज का भय बना रहता है या आपको कोई नया काम शुरू करने से डर लगता है तो अपने भय पर, अपने डर पर काबू पाने के लिए इस दिन आपको देवी दुर्गा के मंत्र का दो बार जाप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है- जय त्वं देवि चामुण्डे जय भूतार्ति हारिणी। जय सर्वगते देवि कालरात्रि नमोस्तु ते।।जाप के बाद मन्दिर की घंटी बजानी चाहिए। ऐसा करने से आप जल्द ही अपने भय पर काबू पा लेंगे। 
  8. अगर आप अपने जीवन की गति को सुगम बनाना चाहते हैं, अपने जीवन को खुशियों से भरना चाहते हैं तो इस दिन आपको देवी मां के मन्दिर में जाकर उनके निमित्त वस्त्र भेंट करने चाहिए और उनको कच्चे नारियल की गिरी का भोग लगाना चाहिए। ऐसा करने से आपके जीवन की गति सुगम बनेगी और आपके जीवन में खुशियां भरी रहेंगी। 
  9. अगर आप सुंदर, स्वस्थ्य काया और परम सुख की प्राप्ति करना चाहते हैं तो इस दिन आपको सुबह स्नान आदि के बाद साफ कपड़े पहनकर देवी दुर्गा के इस मंत्र का 11 बार जाप करना चाहिए। मंत्र है-‘देहि सौभाग्य मारोग्यं देहि मे परमं सुखम् रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषों जहि।’ मंत्र जाप के बाद देवी मां को प्रणाम करना चाहिए। ऐसा करने से आपको सुंदर, स्वस्थ काया और परम सुख की प्राप्ति होगी।
  10. अगर आप अपने जीवन में देवी मां की कृपा बनाये रखना चाहते हैं, अपने कामों में परिवार का सहयोग बनाये रखना चाहते हैं तो इस दिन आपको किसी छोटी कन्या में मां दुर्गा का ध्यान करते हुए आशीर्वाद लेना चाहिए और उसको भेंट स्वरूप कुछ न कुछ देना चाहिए। ऐसा करने से आपके जीवन में देवी मां की कृपा बनी रहेगी और आपको अपने कामों में परिवार का सहयोग मिलता रहेगा। 
  11. अगर आप चाहते हैं कि आपकी सारी परेशानियों का हल चुटकियों में निकल जाए और आपको खूब धन-धान्य की प्राप्ति हो, इसके लिए इस दिन आपको देवी दुर्गा के इस मंत्र का जाप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है- ‘सर्वाबाधाविनिर्मुक्तो धनधान्यसुतान्वितः। मनुष्यो मत्प्रसादेन भविष्यति न संशयः॥’ मंत्र जाप के बाद देवी दुर्गा के आगे कपूर जलाना चाहिए। ऐसा करने से आपकी सारी परेशानियों का हल चुटकियों में निकल जायेगा, साथ ही आपको खूब धन-धान्य की प्राप्ति होगी।
  12. अगर आप अपने बिजनेस में बढ़ोतरी करना चाहते हैं, अपने बिजनेस को दूर-दराज तक फैलाना चाहते हैं तो इस दिन आपको सुबह स्नान आदि के बाद दुर्गा मां की विधि-पूर्वक पूजा करनी चाहिए, कपूर से उनकी आरती करनी चाहिए और उसके बाद हलवे और उबले हुए चने का भोग लगाना चाहिए। ऐसा करने से आपके बिजनेस में बढ़ोतरी होगी और आपका बिजनेस जल्द ही दूर-दराज तक फैलेगा।
Exit mobile version