Home कोरोनावायरस एअर इंडिया के पांच सीनियर पायलट्स का कोविड संक्रमण से निधन, वैक्सीनेशन...

एअर इंडिया के पांच सीनियर पायलट्स का कोविड संक्रमण से निधन, वैक्सीनेशन अभियान पर पड़ा असर

देश के अलग-अलग हिस्सों में वैक्सीन पहुंचाने में दिन-रात मेहनत करने वाले एअर इंडिया (Air India) के पांच सीनियर पायलट्स की कोविड संक्रमण से मौत हो गई. इसकी वजह से कोविड रोधी वैक्सीनेशन अभियान पर भी असर पड़ रहा है. एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार एअर इंडिया के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार बीते महीने मई में कैप्टन प्रसाद कर्माकर, संदीप राणा, अमितेश प्रसाद, जीपीएस गिल और हर्ष तिवारी का कोरोना से निधन हो गया.

बता दें एअर इंडिया के कई पायलट्स पहले भी अपने परिवार और खुद के लिए वैक्सीनेशन की मांग कर चुके हैं 4 मई को ही पायलट्स ने कहा था कि अगर उनका और उनके घर वालों का वैक्सीनेशन नहीं हुआ तो वह काम पर आना बंद कर देंगे. इसके बाद एअर इंडिया ने वैक्सीनेशन कैंप्स लगाए लेकिन वैक्सीन की कमी के चलते कैंप्स बंद कर दिए गए. एअर इंडिया ने वैक्सीनेशन कैंप्स में 45+ वालों को प्राथमिकता दी थी.

ICPA ने लिखी चिट्ठी

इससे पहले मुंबई एयर इंडिया एयरबस के पायलट यूनियन, इंडियन कमर्शियल पायलट गिल्ड (आईसीपीए) ने मंगलवार को न केवल एयरलाइन के कर्मचारियों बल्कि कर्मचारियों के परिवार के सदस्यों को भी टीकाकरण करने के लिए कहा. पायलट्स की ओर से लिखे गए पत्र में कहा गया है- ‘सरकार की नीति को ध्यान में रखते हुए, हम फ़्लाइंग क्रू के लिए टीकाकरण को संभव बनाने वाले पक्षकारों से फ़्लाइंग क्रू के आश्रित परिवार के सदस्यों के टीकाकरण के विशेषाधिकार का विस्तार करने का अनुरोध करते हैं. केवल कर्मचारियों का टीकाकरण करने से मदद नहीं मिलेगी.’हिन्दुस्तान टाइम्स के अनुसार पत्र में पायलट्स ने कहा है कि वंदे भारत मिशन की उड़ानों के बाद घर लौटने पर उन्हें अपने परिवार के सदस्यों को संक्रमित करने का डर है. चिट्ठी में कहा गया है- ‘ अपने कर्तव्यों का पालन करने और अपने परिवारों को सुरक्षित रखने के लिए कंपनी से मदद की आवश्यकता है.’

रिपोर्ट के अनुसार एक पायलट ने कहा ‘पायलटों को क्वारंटीन किया जा रहा है. पायलट संक्रमित हो रहे हैं और उनकी मौत हो रही है. यहां तक ​​कि उनके परिवार के सदस्य भी इस घातक वायरस से पीड़ित हैं और मारे जा रहे हैं.’ हालांकि एयरलाइन ने इस मामले पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version