संकष्ठी चतुर्थी 2020: भगवान गणेश को करना चाहते हैं प्रसन्न तो राशिनुसार करें ये उपाय

ganesh chaturthi

फाल्गुन कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि और बुधवार का दिन है। चतुर्थी तिथि रात 11 बजकर 40 मिनट तक रहेगी। प्रत्येक महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी तथा शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी मनायी जाती है। कृष्ण पक्ष की चतुर्थी है, लिहाजा आज संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी का व्रत किया जायेगा। दरअसल चतुर्थी तिथि के अधिष्ठाता प्रथम पूज्यनीय भगवान गणेश जी को माना जाता है। कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि सभी तरह के संकटों से छुटकारा दिलाने वाली होती है। अतः अगर आपके जीवन में किसी प्रकार का संकट चल रहा है, कोई परेशानी चल रही है या आपका कोई काम बहुत दिनों से अटका हुआ हो, तो इन सब समस्याओं से छुटकारा पाने के लिये आज का दिन बड़ा ही अच्छा है।

आज के दिन किन उपायों को करके आप अपनी समस्याओं से छुटकारा पा सकते है | लेकिन उससे पहले बात करते है आज के योग और नक्षत्र की। आज दोपहर पहले 11 बजकर 46 मिनट तक उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र रहेगा। नक्षत्रों की श्रेणी में उत्तराफाल्गुनी का बारहवां स्थान है। इसके स्वामी सूर्यदेव हैं। उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र का पहला चरण सिंह राशि में आता है, जबकि इसके बाकी तीन चरण कन्या राशि में आते हैं। साथ ही पाकड़ के पेड़ से इसका संबंध बताया गया है। लिहाज इस नक्षत्र में जन्मे जातकों को पाकड़ के पेड़ को नमस्कार करना चाहिए और किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचना चाहिए न ही पाकड से बनी किसी वस्तुओं का इस्तेमाल करना चाहिए। इस नक्षत्र में जन्में जातकों की बात करें, तो ये बहुत ही दयालु, कोमल स्वभाव वाले, वक्ता, कुशाग्र बुद्धि और सही निर्णय लेने वाले होते हैं।

इसके अलावा आज रात 11 बजकर 37 मिनट तक धृति योग रहेगा। भवन एवं स्थान का शिलान्यास, भूमी पूजन या नींव पत्थर रखने के लिए घृति योग को उत्तम माना गया है। इस योग में रखा गया नींव पत्थर आजीवन सुख-सुविधाएं देता है। साथ ही आज रात 11 बजकर 40 मिनट से शुरू होकर अगले दिन सूर्योदय तक कुमार योग रहेगा। कुमार योग दोस्ती को मजबूत बनाने के लिये, रूठे दोस्त को मनाने के लिये और विद्या के क्षेत्र में सफलता पाने के लिये बड़ा ही प्रशस्त है। जानें आचार्य इंदु प्रकाश से संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी के दिन किये जाने वाले खास उपायों के बारे में। 

मेष राशि 
आज सुबह स्नान आदि के बाद एक लोटा जल लेकर उसमें थोड़ी-सी हल्दी मिलानी चाहिए और भगवान गणेश जी का नाम लेते हुए दूर्वा की सहायता से सबसे पहले मन्दिर में फिर पूरे घर में जल को छिड़क दें। आज के दिन ऐसा करने से आपके पूरे परिवार में आपसी सौहार्द बना रहेगा।  वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार मेष राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं| 

वृष राशि 
आज सुबह स्नान आदि से निवृत होकर भगवान गणेश जी की पूजा करके किसी योग्य पण्डित से या आप स्वयं भी गाय के गोबर से बने कंडे पर सफेद तिलों की 108 आहुति देकर घर में छोटा-सा हवन करें। आज के दिन ऐसा करने से आपका दाम्पत्य जीवन हमेशा खुशहाल रहेगा। वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार वृष राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं। 

वास्तु टिप्स: होटल की सीढ़ियां और लिफ्ट दक्षिण या पश्चिम दिशा में बनवाइए

मिथुन राशि 
आज के दिन आपको श्री गणेश भगवान के 6 अक्षर के विद्या प्राप्ति मंत्र का 108 बार जप करना चाहिए। मंत्र है –‘मेधोल्काय स्वाहा। आज के दिन इस मंत्र के जप से आपकी बौद्धिक क्षमता में बढ़ोतरी होगी और परीक्षा में अपनी मेहनत का फल जरूर मिलेगा। वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार मिथुन राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं। 

कर्क राशि 
आज के दिन गणपति जी के सफलता प्राप्ति मंत्र का 11 बार जप करें| मंत्र है-“गं गणपतये नमः” आज के दिन इस मंत्र का 11 बार जप करें और हर बार मंत्र बोलने के बाद गणपति जी को पुष्पांजलि अर्पित करें। वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार कर्क राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं। 

सिंह राशि 
आज के दिन आपको श्री गणेश भगवान को 11 मोदक का भोग लगाना चाहिए। अगर आपको मोदक ना मिले, तो बेसन के लड्डू का भोग लगाएं। आज के दिन ऐसा करने से आपको जल्द ही एक अच्छे जीवनसाथी की प्राप्ति होगी।  वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सिंह राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं।

कन्या राशि 
आज के दिन बाजार से एक पान का पत्ता लेकर आयें और उस पान के पत्ते को अच्छे से साफ करके, उस पर हल्दी से स्वास्तिक का चिन्ह बनाकर भगवान गणेश को अर्पित करें और अपने शत्रु का नाम लेते हुए, उससे छुटकारा पाने के लिये भगवान से प्रार्थना करें। आज के दिन ऐसा करने से आपको जल्दी ही अपने शत्रुओं से छुटकारा मिलेगा। वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार कन्या राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं। 

तुला राशि 
आज के दिन आपको श्री गणेश भगवान को पांच हल्दी की गांठ अर्पित करनी चाहिए। साथ ही गणेश गायत्री मंत्र का जप करना चाहिए। मंत्र है-
एकदंताय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात्।।
महाकर्णाय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात्।।
गजाननाय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात्।।

आज के दिन ऐसा करने से आपको बुद्धि के साथ ही बल की भी प्राप्ति होगी। वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार तुला राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं। 

वृश्चिक राशि 
आज के दिन भगवान श्री गणेश के द्वादसी यानि 12 अक्षरों वाले मंत्र का जाप करें। मंत्र है- “हस्तिपिशचिलिखे स्वाहा” आज के दिन भगवान गणेश के इस मंत्र का 51 बार जप करने से आपको प्यार, पैसा और शोहरत सब कुछ मिलेगा।  वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार वृश्चिक राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं। 

धनु राशि 
आज के दिन सुबह के समय स्नान आदि से निवृत्त होकर एक लोटा जल लें और उस जल में थोड़े-से सफेद तिल मिलाकर भगवान गणेश की प्रतिमा के सामने रख दें। फिर विधि-पूर्वक भगवान की पूजा करें। पूजा के बाद उस पानी के लोटे को ढंककर वहीं भगवान श्री गणेश के सामने रखा रहने दें और शाम के समय जबचन्द्रोदय हो, तो उस पानी से चन्द्रमा को अर्घ्य दें और हाथ जोड़कर चन्द्रदेव को नमस्कार करें। आज के दिन ऐसा करने से आपको करियर में सफलता मिलेगी।  वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार वृश्चिक राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं। 

मकर राशि 
अगर आप अपना कॉन्फिडेंस लेवल बढ़ाना चाहते हैं, तो आज के दिन आपको श्री गणेश भगवान को चन्दन का तिलक लगाना चाहिए और उन्हें लाल रंग के पुष्प अर्पित करने चाहिए। आज के दिन ऐसा करने से आपके कॉन्फिडेंस लेवल में बढ़ोतरी होगी। वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार मकर राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं। 

कुंभ राशि 
आज के दिन घर के ईशान कोण की अच्छे से साफ-सफाई करके एक लकड़ी की चौकी या पाटा स्थापित करें। फिर एक कटोरी में चावल लेकर लकड़ी की चौकी या पाटे पर गणेश जी की आकृति बनाएं। फिर उस आकृति की धूप-दीप आदि से विधि-पूर्वक पूजा करें व पुष्पांजलि अर्पित करें। पूजा के बाद सारी चीज़ों को ऐसे ही रखा रहने दें। शाम होने पर चावलों को उठाकर अपने पास एक पोटली में बांधकर रख लें और अगले दिन उस पोटली को अपने ऑफिस की तिजोरी में रख दें और  बाकी चीज़ों को पीपल के पेड़ की जड़ में चढ़ा दें। आज के दिन ऐसा करने से आप बिजनेस में एक ऊंचा मुकाम हासिल करेंगे।  वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार कुंभ राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं। 

मीन राशि 
आज के दिन श्री गणेश के सामने एक घी का और एक तेल का दीपक जलाएं। घी का दीपक देवताओं के लिये होता है, जबकि तेल का दीपक अपनी कामनाओं की पूर्ति के लिये होता है। साथ  ही ध्यान रहे कि घी के दीपक में सफेद खड़ी बत्ती लगाकर, उसे श्री गणेश के दाहिने हाथ की तरफ रखना चाहिए और तिल के तेल के दीपक में पड़ी हुई लाल बत्ती लगाकर भगवान के बायें हाथ की तरफ रखना चाहिए और दीपक जलाते समय आपकी जो भी इच्छा हो, उसे मन ही मन कहें। आज के दिन ऐसा करने से आपकी जो भी इच्छा होगी, वह जरूर पूरी होगी। वैसे तो आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार मीन राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है, लेकिन बाकि राशि वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकते हैं।