जीवन में कभी भी न करें ये 5 गलतियां, वरना पड़ सकते हैं किसी बड़ी परेशानी में

गरुड़ पुराण 18 पुराणों में से एक माना जाता है। इस शास्त्र के आचारकांड में नीतिसार अध्याय है। जिसमें एक मनुष्य के जीवन में आने वाली परेशानियां और सुखी जीवन जीने के लिए काफी नीतियां बताई गई हैं।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

गरुड़ पुराण नें कुछ ऐसी गूढ़ बातों के बारे में बताया गया हैं जिनका अनुसरण करके आप हमेशा बलवान बनेंगे रहेंगे। इसके साथ ही मां लक्ष्मी का वास आपके घर पर हमेशा रहेगा। अगर आप चाहते हैं कि आपका मान-सम्मान समाज में बना रहें और सुख-समृद्धि बनी रहे। इसके लिए कभी भी ये गलतियां नहीं करना चाहिए।

श्लोक

दाता दरिद्र: कृपणोर्थयुक्त: पुत्रोविधेय: कुजनस्य सेवा।
परापकारेषु नरस्य मृत्यु: प्रजायते दुश्चरितानि पञ्च।।

दरिद्र होकर दानी बनना

इस श्लोक के अनुसार अगर आपकी आय कम हो और घर पर धन का अभाव हो तो किसी को भी दान थोड़ा सोच-समझ कर ही दें। ऐसे लोग हमेशा दुखी रहते हैं जो अपने सामर्थ्य से ज्यादा दान दे देते हैं।

धन होकर कंजूस बनना

इस नीति के अनुसार जो लोग अमीर होते हैं लेकिन दान देने में सबसे ज्यादा कंजूसी करते हैं। जरुरतमंद को पैसा देने के बजाय पैसा बचाने के बारे में सोचते हैं। ऐसे लोगों को अपने फैमिली के साथ-साथ समाज में भी सम्मान नहीं मिलता है।

rgyan app

अगर संतान न हो संस्कारी

कहा जाता है कि अगर आपका बच्चा अच्छा संस्कार का हैं तो आपका नाम कुल के साथ-साथ समाज में भी ऊंचा करता है। वहीं अगर संतान में अच्छे संस्कार नहीं होते हैं तो वह समाज में आपके अपमान का कारण बनता है। इसलिए जरुरी हैं कि अपनी संतान को अच्छे संस्कार दें।

बुरे लोगों की संगत

कहा जाता हैं कि अगर बुरे लोगों की संगत में रहोंगे तो आपके ऊपर भी बुरा असर पड़ेगा। इससे आपका मान-सम्मान कम होता है। इसलिए कभी भी अधर्मी और बुरे लोगों का साथ नहीं करना चाहिए।

दूसरे का नुकसान करना

कभी भी खुद के लाभ के लिए दूसरों का नुकसान नहीं करना चाहिए। इससे परिवार को हानि पहुंचती हैं साथ ही आपका मान-सम्मान समाज के सामने घट जाता है। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here