Home आध्यात्मिक पौराणिक कथा Garuda Purana: जिंदगी में कभी नहीं करनी चाहिए ये 4 गलतियां, इनसे...

Garuda Purana: जिंदगी में कभी नहीं करनी चाहिए ये 4 गलतियां, इनसे शुरू हो सकता है आपका बुरा समय

गरुड़ पुराण में जीवन से जुड़े कुछ ऐसे रहस्यों के बारे में विस्तार से बताया गया है जिनका पालन करके आप जीवन की हर बाधा को आसानी से पार सकते हैं। गरुड़ पुराण के आचारकांड की नितियों में कुछ ऐसी ही गूढ़ बातें बताई हैं। जो किसी भी व्यक्ति के लिए परेशानी का कारण बन सकती हैं। व्यक्ति को जीवन में कभी भी यह गलतियां नहीं करना चाहिए।

गरुड़ पुराण 18 पुराणों में से एक माना जाता है। इस शास्त्र के आचारकांड में नीतिसार अध्याय है। जिसमें एक मनुष्य के जीवन में आने वाली परेशानियां और सुखी जीवन जीने के लिए काफी नीतियां बताई गई हैं।

ग्रंथों का न करे अपमान

गरुड़ पुराण के अनुसार किसी भी धर्म का ग्रंथ हो वो पूजनीय होता है। उससे हमें किसी न किसी तरह से ज्ञान मिलता है। हमारे पुराणों में ऐसा बातें बताई गई हैं जो हमें उज्जवल भविष्य की ओर ले जाती हैं। इन पवित्र ग्रंथों का अपमान कभी भी नहीं करना चाहिए। इससे आप पाप के भागी बनते हैं।

घमंड

महाभारत में दुर्योधन और रामायण में रावण के बारे में बताया गया हैं कि कैसे घमंड के कारण उनके पूरे वंश का नाश हो गया। इसीलिए कहा जाता है कि किसी भी व्यक्ति को कभी भी घमंड नहीं करना चाहिए। हमेशा दूसरों का मान-सम्मान करना चाहिए। ैसा न करने में खुद के साथ-साथ परिवार का नाश हो जाता है।

बड़े-बुजुर्गों का अपमान

गरुड़ पुराण में बताया गया है कि कभी भी अपने से बड़ों का अपमान नहीं करना चाहिए। जो लोग अपने माता-पिता का अपमान करते हैं वह जिंदगी में कभी भी खुशी नहीं रह पाते हैं।

दूसरों की निंदा करना

हमें दूसरों के कर्मों की नहीं बल्कि अपने कर्मों में ध्यान देना चाहिए। ऐसा करने से आप अपने लक्ष्य से कभी भी भटकेंगे नहीं। इसके साथ ही दूसरों की निंदा करके आप अपना वाणी गंदी नहीं करेंगे। जिससे आगे चलकर किसी भी तरह की परेशानी का सामान नहीं करना पड़ेगा। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version