मुरादनगर हादसे पर CM योगी का सख्त एक्शन, इंजीनियर-ठेकेदार पर लगेगा NSA

गाजियाबाद के मुरादनगर श्मशान हादसे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त कार्रवाई की है. सीएम योगी ने घटना के लिए जिम्मेदार इंजीनियर और ठेकेदार के खिलाफ एनएसए लगाने का आदेश दिया है. साथ ही पूरे नुकसान की वसूली दोषी इंजीनियर और ठेकेदार से करने के भी दिए निर्देश दिए गए हैं. ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया गया है.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने डीएम और कमिश्नर को नोटिस जारी करके पूछा कि जब सितंबर में ही 50 लाख से ऊपर के निर्माण कार्यों का भौतिक सत्यापन करने का स्पष्ट निर्देश दिया गया तो चूक क्यों हुई. इसके साथ ही मृ्तक परिवारों को दस-दस लाख की आर्थिक सहायता और इनमें आवासहीन परिवारों को आवासीय सुविधा मुहैया करने के भी निर्देश दिए गए हैं.

गौरतलब है कि बीती रात ही मुरादनगर में श्मशान में हुए हादसे का मुख्य आरोपी अजय त्यागी को गिरफ्तार कर लिया गया. हादसे के बाद से वह फरार था. गाजियाबाद पुलिस ने आरोपी अजय त्यागी पर 25 हजार रुपये का ईनाम घोषित किया था. हादसे में 25 लोगों की मौत हो गई थी. श्मशान घाट में घटिया निर्माण के चलते छत गिर गई थी.

rgyan app

ठेकेदार अजय त्यागी से पहले पुलिस ने मुरादनगर नगरपालिका की ईओ निहारिका सिंह, जेई चंद्रपाल, सुपरवाइजर आशीष को गिरफ्तार किया था. इनके खिलाफ धारा 304, 337, 338, 427, 409 के तहत मुरादनगर थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है. पुलिस ने अपनी जांच में श्मशान घाट में छत बनाने वाले ठेकेदार, नगरपालिका के इंजीनियर और अफसरों को लापरवाह पाया था.

क्या है पूरा मामला

रविवार को मुरादनगर में श्मशान की छत गिरने के कारण 25 लोगों की मौत हो गई थी. उखलारसी गांव में एक व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर परिजन और सगे संबंधी मृतक का अंतिम संस्कार करने के लिए श्मशान घाट लेकर पहुंचे थे. परिजन मृत व्यक्ति का अंतिम संस्कार कर ही रहे थे तभी श्मशान घाट की छत भरभरा कर गिर गई. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतwww.aajtak.in
पिछला लेखVastu Tips: घर की छत पर न रखें फालतू समान, घर के सदस्यों के जीवन पर पड़ेगा बुरा असर
अगला लेखकोरोना के नए स्ट्रेन का खौफ : ब्रिटेन में फरवरी मध्य तक सब कुछ बंद, पीएम बोरिस जॉनसन ने लगाया डेढ़ महीने का सख्त लॉकडाउन