सोना खरीदने से पहले जान लें ये नियम, बेचने पर देना होगा मोटा टैक्स, ऐसे होता है कैलकुलेशन

कोरोना वायरस के दौर में सोने में निवेश काफी तेजी से बढ़ा है. सोना और चांदी की कीमतों में भी जबरदस्त उछाल आया. दोनों ही धातुओं ने इस बीच रिकॉर्ड हाई कीमतों को भी छुआ. हालांकि, पिछले कुछ दिनों से इसमें भारी उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा है. सोना खरीदने हमेशा से भारतीयों की पसंद रहा है. सालभर में कई बार ऐसे मौके आते हैं जब सोना खरीदा जाता है. कुछ लोग इसमें निवेश के लिहाज से भी पैसा डालते हैं. लेकिन, सोना खरीदने से पहले यह जानना बहुत जरूरी है कि सोने को बेचते वक्त कितना टैक्स चुकाना होगा. इस टैक्स का कैलकुलेशन कैसे होता है. आइए जानिए प्रदोष व्रत.

gold price

गोल्ड ज्वेलरी पर कितना टैक्स?

सोने की कीमतें बाजार में ज्वेलरी के वजन और कैरेट से हिसाब से अलग होती हैं. लेकिन, सोने की ज्वेलरी खरीदने पर इसकी कीमत और मेकिंग चार्ज पर 3 फीसदी का गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) लगता है. ज्वेलरी की पेमेंट आप भी किसी भी मोड में करेंगे, 3 फीसदी GST आपको चुकाना होगा. डिजिटल ट्रांजेक्शन बढ़ने के बाद से लोगों ने कैश में सोना खरीदना कम किया है. डिजिटल माध्यम से भी सोना खरीदा जा सकता है. मतलब यह कि सोने की पेमेंट आप डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और इंटरनेट बैंकिंग से कर सकते हैं.

rgyan app

बेचने पर लगता है टैक्स?

शायद ही लोग जानते हों कि सोना खरीदने के साथ ही सोना बेचने पर भी टैक्स लगता है. बेचते वक्त यह देखा जाता है कि ज्वेलरी आपके पास कितने वक्त से है. क्योंकि, उस अवधि के हिसाब से उस पर टैक्स लागू होगा. सोने पर शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन (STCG) और लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन (LTCG) टैक्स चुकाना होगा.  Reach out to the best Astrologer at Jyotirvid.

शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन

सोने पर शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन टैक्स तब लगेगा जब खरीद की तारीख से 3 साल के अंदर आप ज्वेलरी बेचते हैं. STCG के नियम के मुताबिक टैक्स चुकाना होगा. ज्वेलरी बेचने पर आपकी जितनी कमाई हुई है उस कमाई पर इनकम टैक्स स्लैब के हिसाब से टैक्स कटेगा.

लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन

3 साल या उससे ज्यादा पुरानी ज्वेलरी बेचने पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन (LTCG) के हिसाब से टैक्स भरना होगा. LTCG के मुताबिक, टैक्स की दर 20.80 फीसदी होगी. बजट में ही LTCG पर सेस 3 फीसदी से बढ़ाकर 4 फीसदी किया गया है. टैक्स की दर में सेस शामिल है. हालांकि, उससे पहले तक सोना बेचने पर 20.60 फीसदी LTCG लगता था. और अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतwww.zeebiz.com
पिछला लेखप्रदोष व्रत: घर में हमेशा चाहते हैं बरकत तो आज भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए करें ये खास उपाय
अगला लेखDelhi Air Pollution: और खराब हो गई दिल्ली की ‘आबो-हवा’, आईटीओ का AQI लेवल 274