Guru Nanak Jayanti 2021: जानें कब है गुरु नानक जयंती और क्‍या है इसके पीछे का इतिहास

इस साल 19 नवंबर को गुरु नानक जयंती (Guru Nanak Jayanti 2021) है. कार्तिक मास (kartik Maas 2021) की अमावस्या को दिवाली मनाई जाती है और उसके पंद्रह दिनों बाद यानी कि कार्तिक की पूर्णिमा (kartik Purnima 2021 Date) के दिन गुरु नानक जयंती मनाई जाती है. इसके साथ ही सिखों (Sikh) का बड़े पैमाने पर कार्यक्रम आदि आयोजित किया जाता है और जिसके लिए महीने भर पहले से तैयारियां शुरू कर दी जाती हैं. इस दिन ढोल मंजीरों के साथ प्रभातफेरियां निकाली जाती है जिसमें सिख समाज के लोग बढचढ कर हिस्‍सा लेते हैं. इन दिनों लोग गुरुद्वारों में बढचझ कर सेवा कार्यक्रम में भी हिस्‍सा लेते हैं.

गुरु नानक जयंती का इतिहास

सिख धर्म के पहले गुरु, गुरु नानक देव जी का जन्म 1469 ई. को हुआ था. गुरु नानक देव का जन्म भोई की तलवंडी जिसे राय भोई दी तलवंडी भी कहते हैं, स्थान पर हुआ था. हालांकि ये जगह अब पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में मौजूद ननकाना साहिब में है.

अब इस जगह का नाम नानक देव के नाम से ही रखा गया था. यहां देश विदेश से लोग चर्चित गुरुद्वारा ननकाना साहिब (Gurdwara Nankana Sahib) घूमने आते हैं और अपनी श्रद्धा अर्पित करते हैं. बता दें कि शेर-ए पंजाब के नाम से पहचाने जाने वाले सिख साम्राज्य के राजा महाराजा रणजीत सिंह (Maharaja Ranjit Singh) ने यह गुरुद्वारा ‘ननकाना साहिब’ बनवाया था.

कौन थे गुरु नानक जी

कहा जाता है कि गुरु नानक जी ने ही सिख समाज की नींव रखी थी. गुरुनानक देव सिख समुदाय के पहले गुरु भी औैर इस धर्म के संस्थापक भी. उन्हें नानक देव, बाबा नानक और नानकशाह के नाम से भी जाना जाता है. यही नहीं, उन्‍हें लद्दाख और तिब्बत क्षेत्र में नानक लामा भी कहा जाता है. गुरु नानक देव भारत के अलावा अफगानिस्तान, ईरान और अरब देशों में भी उपदेश दिया. उनकी शादी 16 साल की आयु में सुलक्खनी नाम की युवती से शादी हुई और उनके दो बेटे श्रीचंद और लखमीदास हुए. 1539 ई. में पाकिस्‍तान एरिया करतारपुर में उनकी मृत्यु हुई.

astro

अपनी मृत्यु से पहले ही गुरु नानक जी ने अपना उत्तराधिकार अपने शिष्य भाई लहना के नाम घोषणा किया जो बाद में गुरु अंगद देव नाम के नाम से जाने गए. गुरु अंगद देव सिख धर्म के दूसरे गुरु माने गए.बता दें कि गुरु नानक देव अपनी जिंदगी मानव समाज के कल्याण में लगा दी थी. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखStock Market Today- बाजार की जोरदार शुरुआत, सेंसेक्स 400 अंक के करीब खुला, निफ्टी में भी बढ़त
अगला लेखT20 World Cup : फाइनल से पहले न्यूजीलैंड को बड़ा झटका, ये खिलाड़ी खुद की गलती से हुआ बाहर