Guru Purnima 2021: गुरु पूर्णिमा आज, इस शुभ मुहूर्त में ऐसे करें गुरु चरणों की वंदना

आज 24 जुलाई 2021 (शनिवार) को गुरु पूर्णिमा मनाई जा रही है. हर साल भक्त इस मौके पर गंगा स्नान व दान करते थे. लेकिन इस बार कोरोना के चलते यह पर्व शांति के साथ मनाया जाएगा. गुरु पूर्णिमा गुरु (Teacher) को समर्पित मानी जाती है. आज लोग अपने गुरु की पूजा-अर्चना और वंदना करेंगे. आज ख़ास योग बन रहा है. आज गुरु पूर्णिमा पर विष्कुंभ योग सुबह 06 बजकर 12 मिनट तक, प्रीति योग 25 जुलाई की सुबह 03 बजकर 16 मिनट तक और इसके बाद आयुष्मान योग लगेगा. ज्योतिष शास्त्र में प्रीति और आयुष्मान योग का एक साथ बनना शुभ माना जाता है. प्रीति और आयुष्मान योग में किए गए कार्यों में सफलता हासिल होती है. विष्कुंभ योग को वैदिक ज्योतिष में शुभ योगों में नहीं गिना जाता है. आज गुरु पूर्णिमा पर गुरु पूजा का शुभ मुहूर्त और पूजा विधि जानें…

गुरु पूर्णिमा शुभ मुहूर्त:

पूर्णिमा तिथि 23 जुलाई 2021, शुक्रवार की सुबह 10 बजकर 43 मिनट से शुरू होकर 24 जुलाई 2021, शनिवार की सुबह 08 बजकर 06 मिनट तक रहेगी.

गुरु पूर्णिमा की पूजा:

-ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, गुरु पूर्णिमा पर पान के पत्ते, पानी वाले नारियल, मोदक, कपूर, लौंग, इलायची के साथ पूजन से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है.

-कहते हैं कि गंगा स्नान से अस्थमा और त्वचा रोग में लाभ मिलता है.

astro

-गुरु पूर्णिमा के दिन वैदिक मंत्र जाप और विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करने से गुरु की खास कृपा मिलती है.
-मान्यता है कि गुरु पूर्णिमा की रात खीर बनाकर दान करने से मानसिक शांति मिलती है. साथ ही चंद्र ग्रह का प्रभाव भी दूर होता है.

-याज्ञवल्य ऋषि के वरदान से वृक्षराज (बरगद) को जीवनदान मिला था. इसलिए गुरु पूर्णिमा पर बरगद के पेड़ की भी पूजा की जाती है.

अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखAaj Ka Panchang 24 July 2021: जानिए शनिवार का पंचांग, शुभ मुहूर्त और राहुकाल
अगला लेखGold Price: ₹1000 सस्ता हुआ सोना, फटाफट करें खरीदारी वरना पड़ेगा पछताना, जानें अब क्या रह गई कीमत?