Home स्वास्थ्य पीठ और कमर दर्द से हैं परेशान तो बदल डालें ये गलत...

पीठ और कमर दर्द से हैं परेशान तो बदल डालें ये गलत आदतें, मिलेगी राहत

कमर दर्द हो या, पीठ के नीचले हिस्से में दर्द, बहुत से लोग इस तरह के दर्द से काफी परेशान रहते हैं। कई लोग सोचते हैं कि कमर दर्द या पीठ दर्द सिर्फ वृद्धावस्था में होता है, लेकिन यह सच नहीं है। यह किसी भी उम्र में होने वाली तकलीफदेह बीमारी है। आज की बदलती जीवनशैली पीठ या कमर दर्द का कारण बन रही है। इसके अलावा आपकी कुछ गलत आदतों की वजह से भी आपको आए दिन कमर और पीठ में दर्द बना रहता है। इससे पहले कि आपका ये सामान्य दर्द किसी गंभीर बीमारी का रूप ले, अपनी इन आदतों को तुरंत बदल दें।

कमर दर्द और पीठ दर्द से राहत पाना है तो बदल डालें ये आदतें
डेस्क जॉब या बहुत देर तक एक ही जगह पर ना बैठें

लंबे समय तक एक ही जगह पर एक ही पोजिशन में बैठे रहने से पीठ और कमर की मांसपेशियों, गर्दन और रीढ़ की हड्डी पर दबाव बढ़ता है, जिससे कुछ समय बाद वहां पर दर्द होने लगता है। इसके लिए आप कितनी ही आरामदेह कुर्सी क्यों ना यूज करें, लेकिन अगर आप लंबे समय तक एक ही जगह पर बैठे रहेंगे तो आपका दर्द ठीक नहीं होगा।इसलिए, हर 30 मिनट बाद अपनी जगह से उठें, 2-3 मिनट के लिए स्ट्रेचिंग करें और फिर वापस बैठ जाएं।

गलत पॉस्चर में ना बड़े

ज्यादातर लोग कम्प्यूटर, लैपटॉप या स्मार्टफोन यूज करने के दौरान लगातार अपनी गर्दन को झुकाकर रखते हैं। अगर लंबे समय तक आप इसी गलत पॉस्चर में बैठकर काम करें तो इसका आपकी रीढ़ पर बुरा असर पड़ता है और रीढ़ धीरे-धीरे सिकुड़ना शुरू हो जाती है जिससे ना सिर्फ पीठ और कमर में दर्द होता है बल्कि शरीर की बनावट भी खराब हो जाती है। इसलिए, हमेशा सीधे खड़े हों, पीठ और कमर को सीधा रखते हुए बैठें।

धूम्रपान करने से बचें

अगर आप स्मोकिंग करते हैं तो आपको पीठ और कमर में दर्द होने का खतरा उन लोगों की तुलना में ज्यादा बढ़ जाता है जो स्मोक नहीं करते। इसका कारण ये है कि ज्यादातर लोग इस बात को समझ ही नहीं पाते कि किस तरह स्मोकिंग, सिर्फ लंग्स को ही नहीं बल्कि हड्डियों को भी प्रभावित करता है और रीढ़ की हड्डी में मौजूद डिस्क, समय से पहले ही कमजोर होने लगता है।

भारी बैगपैक यूज करन से बचें

कंधे पर बैग टांगने की वजह से पीठ और कमर पर जोर पड़ता है और मांसपेशियां जो रीढ की हड्डी को सपोर्ट करती हैं, वे थक जाती हैं। वैसे बच्चे जो अपने बैगपैक में बहुत सारी किताबें भरकर उन्हें भारी कर लेते हैं उन्हें यह दिक्कत ज्यादा हो सकती है। लिहाजा बेहद जरूरी है कि आपके वजन के 20 प्रतिशत से अधिक ना हो आपके बैग का वजन।

हर वक्त हाई हील्स ना पहनें

बहुत सी महिलाओं को हाई हील्स पहनना बहुत पसंद होता है लेकिन जाने अनजाने उनकी यही आदत उन्हें कमर दर्द भी दे देती है। कई रिसर्च में यह बात साबित हो चुकी है कि हाई हील्स आपकी स्पाइन यानी रीढ़ की हड्डी की नेचुरल अलाइनमेंट को बदल देती है जिससे आगे चलकर पीठ और कमर दर्द होने का खतरा बढ़ जाता है। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version