आईपीओ बाजार में लौटी रौनक, बीती तिमाही 8 कंपनियों ने जुटाए 6,200 करोड़ रुपये

सितंबर 2020 तिमाही में 8 कंपनियां शेयर बाजार में लिस्ट हुईं. इन कंपनियों ने आईपीओ से $85 करोड़ यानी 6,200 करोड़ रुपए से ज्यादा रकम जुटाई. ईवाई की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, दूसरी छमाही में कंपनियां आईपीओ के जरिये इससे ज्यादा रकम जुटा सकती हैं. आइए जानिए वास्तु टिप्स.

इस साल सितंबर तिमाही में 60.2 करोड़ डॉलर के इश्यू साइज के साथ सबसे बड़ा आईपीओ माइंडस्पेस बिजनेस पार्क रीट का रहा. एसएमई मार्केट सेगमेंट में पिछली तिमाही 4 आईपीओ आए, जबकि एक साल पहले की समान तिमाही में इस सेगमेंट में 9 आईपीओ आए थे.

share bazar

ईवाई ने रविवार को जारी रिपोर्ट में कहा कि इस दौरान बीएसई और एनएसई के मेन मार्केट में 4 आईपीओ आए, जबकि पिछले साल की तीसरी तिमाही में 3 आईपीओ आए थे. इस साल की दूसरी तिमाही (अप्रैल-जून) में कोई आईपीओ नहीं आया.

ईवाई इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक ये आठ आईपीओ लाने वाली कंपनिया रियल एस्टेट, हॉस्पिटेलिटी, निर्माण, तकनीक और टेलिकॉम सेक्टर्स की हैं. पिछले साल सितंबर तिमाही में शेयर बाजार में 12 आईपीओ आए थे. इन 12 आईपीओ के जरिए कंपनियों ने $65.198 करोड़ डॉलर ही जुटाए थे.

rgyan app

ईवाय इंडिया के पार्टनर संदीप खेतान ने कहा, “साल 2020 की पहली छमाही के दौरान कोरोना वायरस के चलते प्रदर्शन कमजोर रहा, मगर दूसरी छमाही बेहतर रहने के आसार हैं. हालिया इश्यू की सफलता के चलते निवेशकों को आईपीओ बाजार के प्रति आकर्षण बढ़ना लाजमी है.” Reach out to the best Astrologer at Jyotirvid.

दुनियाभर में देखा जाए, तो सितंबर तिमाही आईपीओ के लिहाज से सुस्त रहती है. लेकिन इस साल सितंबर तिमाही काफी एक्टिव रही, क्योंकि कंपनियों के पास पैसे नहीं थे.

वैश्विक स्तर पर आईपीओ के जरिए सितंबर तिमाही में 20 साल की सबसे ज्यादा फंड जुटाया गया. वहीं आईपीओ की संख्या के मामले में सितंबर तिमाही 20 साल में दूसरी सबसे बड़ी तिमाही रही.

वैश्विक स्तर पर इस साल जनवरी से सितंबर तक आईपीओ की संख्या पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 14 फीसदी बढ़कर 872 रही. इस दौरान आईपीओ से आय 43 फीसदी बढ़कर $165.3 अरब हो गई. भारत इस दौरान आईपीओ की संख्या के मामले में दुनिया में 9वें नंबर पर रहा. और अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here