फांसी की सजा पा चुका तिहाड़ का कैदी है अंबानी के घर विस्फोटक रखने का मास्टरमाइंड? खूंखार आतंकी से मोबाइल जब्त

मुंबई में उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिले विस्फोटक और दिल्ली में इजरायली तूतावास के बाहर हुए ब्लास्ट के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने तिहाड़ जेल में उस मोबाइल फोन को जब्त कर लिया है जिसका इस्तेमाल टेलिग्राम चैनल बनाने और उसके जरिए अंबानी के घर के बाहर रखे विस्फोटक की जिम्मेदारी लेने के लिए किया गया था। चौंकाने वाली बात ये है कि यह मोबाइल फोन जेल में बंद ऐसे आतंकवादी से पकड़ा गया है जो आतंकी हमलों को लेकर फांसी की सजा पा चुका है और उसके ऊपर देश में कई जगहों पर बम धमाके करने का आरोप है।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

इंडियन मुजाहिद्दीन के आतंकी तहसीन अख्तर के बैरक से मोबाइल फोन सीज किया गया है, इसी मोबाइल से टेलीग्राम चैनल एक्टिवेट किया गया था। शुरुआती जांच में सामने आया है आईएम के आतंकी तहसीन अख्तर और उसके अलावा 4 से 5 और आतंकी जो तिहाड़ में बन्द है वो इस फोन का इस्तेमाल कर रहे थे और टेलीग्राम चैनल को इस्तेमाल कर रहे थे। इन लोगो ने धमकी देने के लिए जैश उल हिन्द नाम का ग्रुप क्यों बनाया, ये कौन सा ग्रुप है इसकी जांच की जा रही है।

आतंकी तहसीन पर आरोप है कि वह पटना के गांधी मैदान में पीएम मोदी की रैली में बम धमाके, हैदराबाद ब्लास्ट और बोधगया बम धमाकों में शामिल रहा है। फिलहाल तहसीन तिहाड़ जेल में बन्द है। स्पेशल सेल तहसीन को कस्टडी में लेकर इस मोबाइल फोन और इनकी प्लानिंग के बारे में पूछताछ करेगी, इस मोबाइल नंबर के अलावा एक और नम्बर स्पेशल सेल की रडार पर जो तिहाड़ से ऑपरेट हो रहा था।

rgyan app

तहसीन को हैदराबाद 2013 ब्लास्ट में फांसी की सजा हो चुकी है साथ ही इसी केस में यासीन भटकल को भी फांसी की सजा सुनाई गई थी। तिहाड़ जेल में स्पेशल सेल ने कल पूरे दिन रेड की है, जेल नम्बर 8 में की गई है रेड्स। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखGarud Puran: स्त्री हो या फिर पुरुष कभी नहीं करना चाहिए ये 5 काम, मां लक्ष्मी कर देगी आपका त्याग
अगला लेखगोवा सरकार के सचिव को राज्य का चुनाव आयुक्त बनाना संविधान का मखौल उड़ाना है : सुप्रीम कोर्ट