जयपुर: साउथ अफ्रीका से लौटे एक ही परिवार के 4 सदस्य कोरोना पॉजिटिव, ओमिक्रॉन की आशंका से मचा हड़कंप

कर्नाटक में ओमिक्रॉन के दो संक्रमितों के मिलने के बाद गुजरात और अब राजस्थान में कुछ संदिग्थ मिलने से राज्य सरकारों के हाथ-पांव फूल गए हैं। पहले जामनगर में ओमिक्रॉन के संदिग्थ मिले और अब साउथ अफ्रीका से जयपुर लौटे एक ही परिवार के 4 सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें दो बच्चे भी शामिल हैं। चारों में ओमिक्रॉन की आशंका से राजस्थान के स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। पीड़ित परिवार जयपुर के दादी का फाटक का रहने वाला है और कुछ दिन पहले ही ये सब दक्षिण अफ्रीका से जयपुर लौटा था। चारों के सैंपल जीनोम सीक्वेंन्सिंग के लिए भेजे गए है। परिवार के सदस्यों में से माता-पिता और उनकी 8 साल और 15 साल की दो बेटियां संक्रमित पाई गई हैं।

परिवार के 5 रिश्तेदार भी कोरोना पॉजिटिव

जांच रिपोर्ट आने के बाद ही साफ होगा कि ये ओमिक्रॉन से संक्रमित हैं या सामान्य कोरोना से। लेकिन चिंता की बात ये है कि इस परिवार के 5 रिश्तेदार भी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। अब तक 12 रिश्तेदारों की जांच की गई है, साथ ही बाकी लोगों की भी कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है।

वहीं, आपको बता दें कि वैक्सीनेशन के मामले में देश ने एक और माइलस्टोन हासिल कर लिया है। देश में अब तक 125 करोड़ से ज्यादा लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी जा चुकी है। इनमें से करीब 79 करोड़ 52 लाख लोगों को सिंगल डोज और करीब 46 करोड़ 26 लाख लोगों को डबल डोज मिल चुकी है। ये आंकड़ा ओमिक्रोन के संक्रमण में मददगार हो सकता है, क्योंकि WHO भी ये कह चुका है कि ओमिक्रोन को रोकने वैक्सीनेशन और टेस्टिंग दोनों की रफ्तार तेज करनी होगी। इसे देखते हुए पूरे देश में अलर्ट जारी कर दिया गया है।

भारत में मिले ओमिक्रॉन के 2 केस

कर्नाटक में दो मरीज मिलने के बाद आज वहां ओमिक्रोन के स्ट्रेन को ट्रैक करने के लिए हाई लेवल मीटिंग बुलाई गई है। संसद में भी आज केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री का ओमिक्रोन की रोकथाम और प्रोटोकॉल को लेकर बयान आ सकता है। 2 मरीजों के मिलने के बाद कर्नाटक के मुख्यमंत्री बासवराज बोम्मई आज कोविड टास्कफोर्स और स्वास्थ्य मंत्राय के अधिकारियों के साथ बैठक करने वाले हैं। वहीं कर्नाटक समेत देश के सभी इंटरनेशनल फ्लाइट्स वाले एयरपोर्ट्स पर टेस्टिंग और संभावित मरीजों की स्क्रूटनी बढ़ा दी गई है।

astro

दिल्ली ने जहां 30 हजार से ज्यादा कोविड बेड्स की तैयारी कर ली है, वहीं मुंबई में भी बीएमसी अपने बंद कोविड सेंटर्स खोल रही है। इसी तरह की तैयारी लखनऊ से पटना तक की जा रही है। एयरपोर्ट्स से लेकर रेलवे स्टेशन, बस स्टॉप और भीड़ भाड़ वाले इलाकों में कोविड प्रोटोकॉल को लेकर सख्ती बढा दी गई है। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.com
पिछला लेखAmavasya December 2021: शनैश्चरी अमावस्या पर करें शनि चालीसा का पाठ, हर दुख होगा दूर
अगला लेखदैनिक राशिफल 4 दिसंबर 2021: मेष राशि वालों की आर्थिक स्थिति होगी बेहतर, जानें अन्य का हाल