Home आध्यात्मिक January 2022 Weekly Vrat Tyohar: जनवरी के चौथे सप्ताह में हैं ये...

January 2022 Weekly Vrat Tyohar: जनवरी के चौथे सप्ताह में हैं ये 4 महत्वपूर्ण व्रत, देखें लिस्ट

जनवरी 2022 के चौथे सप्ताह का प्रारंभ 24 जनवरी दिन सोमवार से होने वाला है. इस सप्ताह में कालाष्टमी (Kalashtami), षटतिला एकादशी (Shattila Ekadashi), प्रदोष व्रत (Pradosh Vrat) एवं मासिक शिवरात्रि (Masik Shivratri) जैसे महत्वपूर्ण व्रत हैं. इस सप्ताह में ही गणतंत्र दिवस भी 26 जनवरी दिन बुधवार को है. इस सप्ता​ह के व्रत भगवान शिव और भगवान विष्णु की आराधना से जुड़े हुए हैं. आइए जानते हैं कि ये व्रत किस दिन और किस तारीख को हैं.

जनवरी 2022 साप्ताहिक व्रत एवं त्योहार

25 जनवरी, मंगलवार: कालाष्टमी

माघ मास की कालाष्टमी 25 जनवरी दिन मंगलवार को है. इस दिन भगवान शिव के अवतार काल भैरव की पूजा की जाती है. हर मास के ​कृष्ण पक्ष की अष्टमी को ही कालाष्टमी मनाई जाती है. ​कालाष्टमी व्रत करने और काल भैरव की पूजा करने से व्यक्ति को किसी प्रकार का भय नहीं रहता है और वह निरोग रहता है.

26 जनवरी, बुधवार: गणतंत्र दिवस

गणतंत्र दिवस हमेशा ​की तरह 26 जनवरी को है. इस दिन बुधवार है. गणतंत्र दिवस के इंडिया गेट पर परेड निकलती है. हालांकि कोरोना के कारण गणतंत्र दिवस समारोह सीमित हो सकता है.

28 जनवरी, शुक्रवार: षटतिला एकादशी

इस वर्ष षट्तिला एकादशी का व्रत 28 जनवरी दिन शुक्रवार को है. माघ मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को षटतिला एकादशी का व्रत रखा जाता है. इस दिन व्रत रखते हैं और भगवान विष्णु की पूजा की जाती है. इस दिन षटतिला एकादशी व्रत कथा का श्रवण भी किया जाता है. षटतिला एकादशी व्रत करने से मनोकामनाओं की पूर्ति होती है और मृत्यु के बाद मोक्ष मिलती है. इस दिन पूजा में तिल का प्रयोग करते हैं.

30 जनवरी, रविवार: प्रदोष व्रत, मासिक शिवरात्रि

प्रदोष व्रत 2022: माघ मास के कृष्ण पक्ष का प्रदोष व्रत 30 जनवरी दिन रविवार को है. यह रवि प्रदोष व्रत है. रवि प्रदोष व्रत के दिन भगवान शिव की पूजा करते हैं. शिव जी की कृपा से सुख, सौभाग्य और आरोग्य प्राप्त होता है. इस दिन प्रदोष काल में शिव पूजा करते हैं.

मासिक शिवरात्रि 2022: माघ मास की शिवरात्रि 30 जनवरी दिन रविवार को ही है. इस दिन प्रदोष व्रत एवं शिवरात्रि का संयोग बना हुआ है. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version