Uttarakhand Chardham Yatra: चारधाम यात्रा पर जा रहे हैं तो इन बातों का रखें ध्यान

कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से उत्तराखंड (Uttarakhand) में लगी चारधाम यात्रा पर रोक नैनीताल हाईकोर्ट की सुनवाई के बाद हट गई है. कोर्ट ने कोविड नियमों का पालन कर यात्रा को लेकर अनुमति दे दी है. इसके साथ ही चारधाम यात्रा का इंतजार कर रहे श्रध्दालुओं के लिए यात्रा करने का रास्ता साफ हो गया है. चारधाम की यात्रा (CharDham Yatra) मुश्किल यात्राओ में से एक है. इस यात्रा के दौरान कई महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना आवश्यक है वर्ना यात्रा परेशानी का सबब बन सकती है.

आप भी अगर चारधाम यात्रा की योजना बना रहे हैं तो कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखें.चारधाम यात्रा के अंतर्गत गंगोत्री, यमुनोत्री, केदारनाथ और बद्रीनाथ आते हैं. इनमें से केदारनाथ की यात्रा सबसे मुश्किल मानी जाती है. यात्रा के दौरान पड़ने वाले पड़ावों के बारे में भी एक बार जान लें.

ये हैं चार पड़ाव
1 यमुनोत्री – चारधाम यात्रा का यमुनोत्री पहला पड़ाव है. यहां यमुना जी का पहाड़ी शैली में बना हुआ एक मंदिर है. पास ही खौलते हुए पानी का स्त्रोत है जो तीर्थ यात्रियों को काफी आकर्षित करता है. यमुनोत्री
पहुंचने के लिए कुछ किलोमीटर तक पैदल चलना पड़ता है.

  1. गंगोत्री – गंगोत्री इस यात्रा का दूसरा पड़ाव है. यहां श्रद्धालु मां गंगा की पूजा करने के लिए पहुंचते हैं. गंगा का उद्गम गोमुख यहां गंगोत्री से लगभग 18 किलोमीटर दूर है. वहां गाड़ी की सहायता से जाया जा
    सकता है.
  1. केदारनाथ – चारधाम यात्रा का सबसे मुश्किल पड़ाव केदारनाथ धाम है. यह उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में स्थित है. ऋषिकेश से गौरीकुंड की दूरा लगभग 76 किलोमीटर है. यहां से और 18 किलोमीटर की यात्रा कर केदारनाथ पहुंचा जा सकता है.
  2. बद्रीनाथ – चारधाम यात्रा का अंतिम पड़ाव है बद्रीनाथ. इसे बैकुंठधाम भी कहा जाता है. बद्रीनाथ धाम में मौसम अगर ठीक रहे तो गाड़ियां जाती हैं. इसके अलावा चारधामों के बीच भी कई दर्शनीय मंदिर स्थित हैं.

यात्रा के दौरान ये जरूरी चीजें रखें साथ

– जरूरी दवाइयों की फर्स्ट एड किट
– गर्म एवं ऊनी कपड़े
– एक टॉर्च
– रस्सी
– यात्रा को अकेले करने से बचें

अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखAaj Ka Panchang 17 September 2021: जानिए शुक्रवार का पंचांग, शुभ मुहूर्त और राहुकाल
अगला लेखGarud Puran: जिंदगी में कभी न करें ये 4 काम, आयु हो सकती है कम