Home आध्यात्मिक त्योहार Kharmas 2020: 15 दिसंबर से शुरू हो रहा खरमास, इन शुभ कार्यों...

Kharmas 2020: 15 दिसंबर से शुरू हो रहा खरमास, इन शुभ कार्यों पर रहेगी रोक

सूर्य हर माह में राशि परिवर्तन करते हैं. इसी क्रम में मध्य दिसंबर में वे धनु राशि में प्रवेश करते हैं. इस माह को खरमास (Kharmas 2020) कहते हैं. खरमास का महीना बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण होता है. इस समय एक माह के लिए शुभ कार्य (kharmas Month begins) बंद हो जाते हैं. इस बार सूर्य धनु राशि में 15 दिसंबर को प्रवेश कर रहे हैं. 15 दिसंबर से ही खरमास महीने की शुरुआत हो जाएगी. आइए जानिए मिसेज बेक्टर्स का आईपीओ.

इस समय कौन-कौन से कार्य वर्जित होते हैं?

इस समय विवाह करना शुभ परिणाम नहीं देता है, इसलिए विवाह करना वर्जित है. इस समय निर्मित किए गए मकान सुख नहीं देते, इसलिए गृह निर्माण भी वर्जित होता है. इस समय नया व्यवसाय करना भी लाभकारी नहीं होता है, इसलिए नए व्यवसाय की शुरुआत भी वर्जित है. जिन कार्यों को लंबे समय तक चलाना है, उनको भी इस समय रोक देना चाहिए.

धनु खरमास में कौन से कार्य कर सकते हैं?

अगर प्रेम विवाह या स्वयंवर का मामला हो तो विवाह किया जा सकता है. जो कार्य नियमित रूप से हो रहे हों उनको करने में भी खरमास का कोई बंधन या दबाव नहीं है. सीमान्त, जातकर्म और अन्नप्राशन आदि कर्म पूर्व निश्चित होने से इस अवधि में किए जा सकते हैं. गया में श्राद्ध भी इस अवधि में किया जा सकता है, उसकी भी वर्जना नहीं है.

राशि परिवर्तन से किसे नुकसान?

जिन लोगों को क्रोध आता हो या रक्तचाप बढ़ा रहता हो, उनके लिए अच्छा नहीं होगा. जिन लोगों को हड्डियों की समस्या है, उन्हें विशेष ध्यान देना चाहिए. जिनकी राशि वृष, कर्क, कन्या, तुला या मकर है, उन्हें समस्याएं परेशान कर सकती हैं. जो लोग प्रशासन के क्षेत्र में या आध्यात्म के क्षेत्र में हैं, उन्हें लाभ होगा. जो लोग सूर्योदय के पूर्व उठते हैं, वे तमाम मुश्किलों से बचे रहेंगे. मेष, सिंह, धनु और कुंभ राशि के लिए यह परिवर्तन लाभकारी होगा. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

Exit mobile version