साल का दूसरा चंद्र ग्रहण जून में, आइए जानते हैं इसका असर क्या होगा…

हिंदू धर्म में चंद्र ग्रहण और सूर्य ग्रहण का बहुत अधिक महत्व है। ग्रहों की चाल और राशि बदलने से हर किसी के जीवन में कुछ न कुछ प्रभाव पड़ता है। आपको बता दें कि साल 2020 में 4 चंद्र ग्रहण लगने जा रहे हैं। इस साल का पहला चंद्र ग्रहण 10-11 जनवरी को लगा था। वहीं दूसरा जून में लगने जा रहा है।  इस चंद्र ग्रहण को ‘वुल्फ मून’ भी कहा जाता है। जानिए 2020 में कब और कहां लग रहा हैं चंद्र ग्रहण।  

यह भी पढ़े: शनि जयंती / शनि के कारण 6 राशियों को मिल सकती है तरक्की, धन लाभ के योग भी बन रहे हैं

चंद्र ग्रहण क्यों होता है?

चंद्रमा का पृथ्वी की ओट में आ जाना। उस स्थिति में सूर्य एक तरफ, चंद्रमा दूसरी तरफ और पृथ्वी बीच में होती है। जब चंद्रमा धरती की छाया से निकलता है तो चंद्र ग्रहण पड़ता है।

कब होगा दूसरा चंद्र ग्रहण

साल 2020 का दूसरा चंद्र ग्रहण 5-6 जून को होगा। ज्योतिषीय गणना के अनुसार ये चंद्र ग्रहण 5 जून की रात 11 बजकर 16 मिनट से शुरू होगा जो 6 जून की सुबह 2 बजकर 34 मिनट तक रहेगा। यह ग्रहण ज्येष्ठा नक्षत्र और वृश्चिक राशि में होने वाला है।

चंद्र ग्रहण 2020

जून में पड़ने वाले चंद्र ग्रहण का क्या होगा असर

ज्योतिषों के अनुसार दूसरा चंद्र ग्रहण वृश्चिक राशि में होगा। इसलिए थोड़ा सावधान रहने की जरूरत है। वृश्चिक राशि में होने के कारण आपकी राशि और लग्न और 3वां, 5वां, 7वां और 11वां भाव प्रभावित होगा। 7वां भाव के कारण जीवनसाथी के सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है। वहीं अन्य भावों के कारण सेहत संबंधी समस्याओं के साथ भाई-बहन के रिश्ते में खटास आने की भी आशंका है।

कब होगा साल 2020 का तीसरा चंद्र ग्रहण  

इस साल का तीसरा चंद्र ग्रहण पूर्णिमा के दिन 5 जुलाई को धनु राशि में सुबह 8 बजकर 38 मिनट से शुरू होकर 11 बजकर 21 मिनट तक रहेगा। दिन होने के कारण यह ग्रहण भारत में नजर नहीं आएगा। 

कब होगा चौथा चंद्र ग्रहण

अब बात करें तो चौथे चंद्र ग्रहण की तो वह 30 नवंबर को दोपहर 1 बजकर 34 मिनट से शुरू होगा और शाम को 5 बजकर 22 मिनट पर समाप्त होगा। दिन होने के कारण भारत में इसे देखना संभव नहीं हो पाएगा।