Lunar Eclipse 2021: चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं इन 7 चीजों का जरूर रखें ध्यान

2021 का पहला चंद्र ग्रहण 26 मई को लगेगा। ये पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा। इस सुपरमून को ब्लड मून भी कहा जा रहा है। ज्योतिष के अनुसार किसी भी ग्रहण का व्यक्ति के जीवन पर असर जरूर पड़ता है। ये ग्रहण भारत में उपछाया मात्र होगा, यानी कि भारत में ये उपछाया के रूप में दिखाई देगा। हालांकि ज्योतिषों के अनुसार गर्भवती महिलाओं को इस ग्रहण के दौरान कुछ सावधानियां जरूर बरतनी चाहिए।

Get-Detailed-Customised-Astrological-Report-on
  1. गर्मभवती महिलाएं इस बात का खास ध्यान रखें कि वो इस दौरान घर से बिल्कुल भी बाहर ना निकलें। ऐसा इसलिए क्योंकि ग्रहण की पड़ने वाली रोशनी बच्चे के स्वास्थ्य के लिए सही नहीं मानी जाती है।
  1. ग्रहण के समय महिलाएं काटना, छीलना, छौंकना या बघारने से परहेज करें।
  2. ग्रहण के समय रसोई से संबंधित कोई भी कार्य नहीं करना चाहिए। इसके साथ ही कुछ भी खाने से बचना चाहिए।
  3. ग्रहण के दौरान मुंह में तुलसी के पत्ते को रखकर हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए।
  4. ग्रहण समाप्त होने पर स्नान जरूर करें।
  1. घर में सभी पानी के बर्तन में, दूध में और दही में कुश या तुलसी की पत्ती या दूब धोकर डालनी चाहिए और ग्रहण समाप्त होने के बाद दूब को निकालकर फेंक देना चाहिए।
  2. इस दौरान घर में भी भगवान के मंदिर को ढक देना चाहिए। पूजा-पाठ करना चाहिए।

यहां दिखेगा चंद्र ग्रहण

ग्रहण दक्षिण अमेरिका, उत्तरी अमेरिका, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, अंटार्कटिका, प्रशांत महासागर और हिंद महासागर को कवर करने वाले क्षेत्र में यह दिखाई देगा।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

किस समय होगा चंद्र ग्रहण

भारतीय मानक समय (IST) के अनुसार , इस साल का पहला पूर्ण चंद्रग्रहण दोपहर 2 बजकर 17 मिनट से शुरू होगा और शाम 7 बजकर 19 मिनट तक दिखाई देगा।

अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखStock Market: बाजार में बढ़त! सेंसेक्स 50,777 और निफ्टी 15,232 पर खुला, टाइटन समेत इन शेयरों में तेजी
अगला लेखलव राशिफल 26 मई 2021: आपके प्रेम और वैवाहिक जीवन के लिए कैसा रहेगा दिन