फरवरी की खास तिथियां, माघ मास की पूर्णिमा और शिवजी की पूजा का पर्व महाशिवरात्रि

महाशिवरात्रि
  • नए माह की शुरुआत होगी नर्मदा जयंती से, फरवरी की किस तिथि पर कौन से शुभ काम कर सकते हैं

2020 के दूसरे माह फरवरी में माघी पूर्णिमा और महाशिवरात्रि के साथ कई अन्य खास तिथियां आने वाली हैं। हिन्दी पंचांग के मुताबिक फरवरी में माघ मास खत्म होगा और फाल्गुन मास शुरू हो जाएगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार जानिए फरवरी की विशेष तिथियां और उन तिथियों पर किए जाने वाले शुभ काम…

आद्यात्मिक और सामाजिक जानकारी के लिए अभी डाउनलोड करे : Rgyan APP

  • शनिवार, 1 फरवरी को मां नर्मदा का जन्मोत्सव मनाया जाएगा। इस तिथि पर नर्मदा नदी की विशेष पूजा करें।
  • बुधवार, 5 फरवरी को जया एकादशी है। इसे भीष्म एकादशी कहते हैं। इस तिथि पर भगवान विष्णु के लिए व्रत उपवास करें और सूर्यास्त के बाद तुलसी पूजा करें।
  • रविवार, 9 फरवरी को माघ मास की अंतिम तिथि पूर्णिमा है। इस दिन संत रविवदास की जयंती भी है। माघी पूर्णिमा पर इस माह के स्नान भी समाप्त हो जाएंगे। 10 फरवरी से फाल्गुन मास शुरू हो जाएगा।
  • बुधवार, 12 फरवरी को गणेश चतुर्थी है। इस दिन भगवान श्री गणेश के लिए व्रत किया जाता है और विशेष पूजन करने की परंपरा है।
  • बुधवार, 19 फरवरी को विजया एकादशी है। एकादशी पर भगवान विष्णु के लिए व्रत करने का विधान है। विष्णुजी और लक्ष्मीजी की विशेष पूजा करें।
  • शुक्रवार, 21 फरवरी को महादेव की पूजा का महापर्व शिवरात्रि है। इस दिन भगवान शिव का अभिषेक करें। शिवलिंग पर तांबे के लोटे से जल चढ़ाएं। चांदी के लोटे से दूध अर्पित करें।
  • रविवार, 23 फरवरी को फाल्गुन मास की अमावस्या है। इस दिन पितरों के श्राद्ध और तर्पण करना चाहिए। अमावस्या पर पवित्र नदियों में स्नान करने की और दान करने का विशेष महत्व है।
  • गुरुवार, 27 फरवरी को विनायकी चतुर्थी है। ये तिथि गणेशजी को समर्पित है। इस तिथि पर भगवान गणेश की पूजा करें।