Mahashivratri 2022: आज महाशिवरात्रि पर ऐसे करें माता लक्ष्मी को प्रसन्न, धन-दौलत में होगी वृद्धि

आज महाशिवरात्रि पर हर शिव भक्त अपने प्रभु भोलेनाथ (Bholenath) को प्रसन्न करने में लगा है. भगवान शिव (Lord Shiva) और उनसे जुड़ी पूजा की वस्तुओं के बारे में कई ऐसी बातें हैं, जो सभी लोगों को पता नहीं रहती हैं क्योंकि शिव जितने भोले हैं, उतने ही रहस्यों से भरे हुए भी हैं. अब बेलपत्र को ही ले लीजिए. इसके बिना​ शिव जी की पूजा अधूरी है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि बेलपत्र से माता लक्ष्मी को भी प्रसन्न कर उनका आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं. महाशिवरात्रि के अवसर पर आज आप माता लक्ष्मी (Mata Lakshmi) को कैसे प्रसन्न कर सकते हैं, आइए जानते हैं इसके बारे में.

महाशिवरात्रि 2022 माता लक्ष्मी की पूजा

धार्मिक दृष्टि से बेलपत्र को दिव्य वृक्षों की श्रेणी में रखा गया है. बेलपत्र भगवान शिव को अत्यधिक प्रिय है. इसके बिना शिव की पूजा संभव ही नहीं हो पाती है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार बेलपत्र में भगवान शिव और माता पार्वती का वास होता है. बेलपत्र के पेड़ की जड़ में माता लक्ष्मी का वास होता है.

आज महाशिवरात्रि के अवसर पर आप बेलपत्र के पेड़ की जड़ की पूजा करके माता लक्ष्मी को प्रसन्न कर सकते हैं. आज शिव पूजन के बाद बेलपत्र के पेड़ की जड़ की पूजा करें. वहां पर खीर, सफेद बर्फी, बताशा आदि अर्पित करें और माता लक्ष्मी का स्मरण करें. ऐसा करने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और उस व्यक्ति के जीवन में धन-संपत्ति की वृद्धि होती है. उसे समस्त तीथों का पुण्य प्राप्त होता है.

मान्यता यह भी है कि बेलपत्र के पेड़ की जड़ पूजा करने से दरिद्रता का नाश होता है, आर्थिक स्थिति मजबूत होती है. पाप से मुक्ति मिलती है और कष्ट दूर होते हैं. जिस पर माता लक्ष्मी की कृपा हो जाती है, उसके लिए कोई भी वस्तु या सुख सुविधा अप्राप्य नहीं रहती है.

पूजा के समय बेलपत्र के पेड़ की जड़ पर जल अर्पित करने और उस जल को अपने सिर पर छिड़कने से रोग एवं दोष से छुटकारा मिलता है. इस प्रकार आप महाशिवरात्रि पर भगवान शिव के आशीर्वाद के साथ ही माता लक्ष्मी की भी कृपा पा सकते हैं. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेख11 महीने में इस मल्टीबैगर स्टॉक ने 1 लाख को बना दिया 91 लाख, शेयर का भाव 102 से पहुंचा 7625 पर
अगला लेखराष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिले पीएम मोदी, यूक्रेन संकट सहित कई मुद्दों पर हुई बातचीत