Mahatma Gandhi Jayanti: महात्मा गांधी के जन्मदिन पर पढ़िए उनके 8 सुविचार

हम सबके प्यारे से बापू महात्मा गांधी जी का 2 अक्टूबर को जन्म हुआ था। महात्मा गांधी ने अपने विचारों और देशभक्ति से दुनिया में ऐसी अमिट छाप छोड़ी है कि आज भी हर कोई उन्हें उनके त्याग और बलिदान के लिए याद करता है। महात्मा गांधी ने देश को अहिंसा के मार्ग पर चलने की सलाह दी। इन्होंने पूरी दुनिया को इस बात से अवगत कराया कि बिना किसी हिंसा के भी कोई भी लड़ाई लड़ी जा सकती है। महात्मा गांधी की जयंती पर आज हम आपको उनके कुछ ऐसे विचारों के बारे में बताएंगे जिसे हर किसी को अपने जीवन में उतारना चाहिए।

धैर्य का छोटा हिस्सा भी एक टन उपदेश से बेहतर है।

खुद को खोजने का सबसे अच्छा तरीका है, खुद को दूसरों की सेवा में खो दो।

जिस दिन से महिला रात में सड़कों पर स्वतंत्र रूप से चलने लगेगी। उस दिन हम कह सकते हैं कि भारत ने स्वतंत्रता हासिल कर ली है।

व्यक्ति अपने विचारों के सिवाय कुछ नहीं है। वह जो सोचता है, वह बन जाता है।

डर शरीर का रोग नहीं है, यह आत्मा को मारता है।

ऐसे जिएं कि जैसे आपको कल मरना है और सीखें ऐसे जैसे आपको हमेशा जीवित रहना है ।

आंख के बदले आंख पूरे विश्व को अंधा बना देगी।

क्रूरता का उत्तर क्रूरता से देने का अर्थ अपने नैतिक व बौद्धिक पतन को स्वीकार करना है।

खुद वो बदलाव बनिए जो आप दुनिया में देखना चाहते हैं।

अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखAaj Ka Panchang 2 October 2021: जानिए शनिवार का पंचांग, शुभ मुहूर्त और राहुकाल
अगला लेखVastu Tips: किचन के लिए इस रंग का करें चुनाव, सकारात्मक ऊर्जा का होगा संचार