ममता बनर्जी ने PM मोदी को लिखा पत्र, ‘वैक्सीन, रेमडेसिविर, टोसिलिजुमैब और ऑक्सीजन मांगी’

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कोरोना वैक्सीन, रेमडेसिविर और टोसिलिजुमैब इंजेक्शन तथा ऑक्सीजन की जल्द से जल्द सप्लाई देने का अनुरोध किया है। उन्होंने इस संबंध में पीएम मोदी को पत्र लिखा है। पत्र में ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से वैक्सीन की 5.4 करोड़ डोज की सप्लाई की मांग की हैं।

astrologi report

इसके साथ ही उन्होंने रेमडेसिविर और टोसिलिजुमैब इंजेक्शन की नियमित आपूर्ति का भी पीएम मोदी से अनुरोध किया है। उन्होंने पीएम मोदी से पत्र में ऑक्सीजन की जल्द से आपूर्ति किए जाने की भी अपील की है। गौरतलब है कि ममता बनर्जी लगातार केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों पर सवाल खड़े करती रही हैं।

पत्र से अलग रविवार को भी एक रैली के दौरान उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा, “देश में रेमडेसिविर और ऑक्सीजन की कमी है। आज हमारे देश में कोई दवा नहीं है लेकिन 80 देशों में दवाएं भेजी गईं। आप दवाएं भेज रहे हैं तो मुझे कोई समस्या नहीं है लेकिन पहले अपने राष्ट्र को उपलब्ध कराएं। आप अपना नाम गौरवान्वित करने के लिए ऐसा कर रहे हैं।”

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी लिखा पत्र

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण खराब होते हालातों को देखते हुए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा और कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन को बढ़ाने का सुझाव दिया है। पूर्व प्रधानमंत्री ने पत्र में कोविड टीकाकरण कार्यक्रम को हामारी प्रबंधन का बड़ा हिस्सा बताया और उसका विस्तार किए जाने का सुझाव दिया।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा कि महामारी प्रबंधन का बड़ा हिस्सा कोविड टीकाकरण कार्यक्रम का विस्तार करना है। पत्र में मनमोहन सिंह ने कहा, “हमें कितने लोगों का टीकाकरण किया गया इस तरफ देखने के बजाए कितनी फीसदी आबादी का टीकाकरण किया गया, इस पर ध्यान देना चाहिए।”

rgyan app

यह देखते हुए कि भारत ने वर्तमान में अपनी आबादी का केवल एक छोटे हिस्से का ही टीकाकरण किया है, मनमोहन सिंह ने कहा कि वह निश्चित रूप से मानते हैं कि सही नीति बनाकर बहुत बेहतर और बहुत जल्दी टीकाकरण कर सकते हैं। अपने पत्र में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने ऐसे कई सुझाव दिए हैं।

पत्र में मनमोहन सिंह ने लिखा, “कई चीजें हैं, जो हमें महामारी से लड़ने के लिए करनी चाहिए, लेकिन इस प्रयास का एक बड़ा हिस्सा टीकाकरण कार्यक्रम को बढ़ाना है।” सिंह ने कहा कि वह रचनात्मक सहयोग की भावना से विचार करने के लिए अपने सुझाव को अग्रेषित कर रहे हैं, जिसमें उन्होंने हमेशा विश्वास किया है और कार्य किया है। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here