Market Update: ग्लोबल मार्केट के संकेत मिले जुले, बाजार की कमजोर शुरुआत

भारतीय शेयर बाजार की शुरुआत आज मंगलवार को कमजोर हुई है. निफ्टी और सेंसेक्स दोनों लाल निशान में ओपन हुए हैं. निफ्टी बाजार खुलने के बाद लगभग 30 अंकों की गिरावट के साथ 18080 के आस-पास दिख रहा है. वहीं सेंसेक्स लगभग 100 अंकों से ज्यादा की गिरावट के बाद 60,590 के करीब ट्रेड कर रहा है.

ONGC, L&T, Hero MotoCorp, Maruti Suzuki और TATA Consumer Products निफ्टी के टॉप गेनर में शामिल है. वहीं Hindalco, Tata Steel, HDFC, Reliance Industries और JSW Steel टॉप लूजर है.

NSE पर F&O बैन में आने वाले शेयर

16 नवंबर को NSE पर 9 स्टॉक F&O बैन में हैं. इनमें Bank of Baroda, BHEL, Escorts, Indiabulls Housing Finance, IRCTC, NALCO, Punjab National Bank, SAIL and Sun TV Network के नाम शामिल हैं. बताते चलें कि F&O सेगमेंट में शामिल स्टॉक्स को उस स्थिति में बैन कैटेगरी में डाल दिया जाता है, जिसमें सिक्योरिटीज की पोजीशन उनकी मार्केट वाइड पोजीशन लिमिट से ज्यादा हो जाती है.

आज के लिए ग्लोबल मार्केट से संकेत साफ नहीं है. एशिया की फ्लैट शुरुआत हुई है. SGX NIFTY में हल्की बढ़त देखने को मिल रही है. कल अमेरिकी बाजारों में सुस्त कारोबार दिखा था. DOW FUTURES में आज ज्यादा एक्शन नहीं है. ग्लोबल संकेतों के बीच आज भारतीय बाजारों की शुरुआत सपाट चाल के साथ हो सकती है.

क्रिप्टो करेंसी पर राहत की बात

वित्तीय मामलों पर संसद की स्थाई समिति क्रिप्टो करेंसी पर पूरी तरह से रोक के पक्ष में नहीं है. सदस्यों ने कहा क्रिप्टो का गलत इस्तेमाल ना हो. रेगुलेशन के पक्ष में ज्यादातर सदस्य रहे है.

राज्यों को अतिरिक्त फंड देगी केंद्र सरकार

केंद्र सरकार इकोनॉमी की रफ्तार बढ़ाने के लिए राज्यों को अतिरिक्त फंड मुहैया कराएगी. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- 22 नवंबर तक राज्यों को 95 हजार करोड़ मिलेंगे. 47500 करोड़ की एक एडवांस किस्त भी शामिल रहेगी.

ASHOK LEYLAND पर ब्रोकरेज की राय

NOMURA ने ASHOK LEYLAND पर खरीदारी की राय दी है और इसका लक्ष्य 175 रुपये तय किया है. उनका कहना है कि कंपनी के दूसरी तिमाही के नतीजे अनुमान के मुताबिक रहे. वहीं इकोनॉमिक रिवाइवल से CV साइकल को सपोर्ट मिलेगा. इसके आगे कीमतें बढ़ने से मार्जिन को सपोर्ट मिलेगा.

JEFFERIES ने ASHOK LEYLAND पर खरीदारी की रेटिंग दी है और शेयर का लक्ष्य 150 रुपये से बढ़ाकर 175 रुपये तय किया है. उनका कहना है कि कंपनी के ट्रक डिमांड में तेज रिकवरी नजर आई है जिसके आगे और बेहतर होने की उम्मीद है. वहीं FY18 से ट्रक के मार्केट शेयर में 10% की कमी नजर आई थी. हालांकि ई-मोबिलिटी सर्विस बिजनेस की प्रोमोटर कंपनी को बिक्री किये जाने वजह को लेकर स्पष्टता नहीं है. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखVastu Tips: जानिए घर की किस दिशा में रखना चाहिए इलेक्ट्रॉनिक सामान
अगला लेखHindu Marriage Rituals: क्या आप जानते हैं शादी की रस्मों के बारे में ये बातें, जानें मेहंदी से लेकर हल्दी लगाने तक का कारण