Market Update: कमजोर ग्लोबल संकतों के बीच बाजार में गिरावट, आईटी शेयरों में गिरावट

भारतीय शेयर बाजारों की आज बुधवार को कमजोर शुरुआत हुई है. कमजोर ग्लोबल संकेतों के बीच सेसेंक्स लगभग 280 अंक यानी 0.34 फीसदी की गिरावट के साथ 60,550.76 के स्तर पर कारोबार कर रहा है. वहीं निफ्टी 53.05अंक यानी 0.29 फीसदी की गिरावट के साथ 18075 के स्तर पर कारोबार कर रहा है.

ग्लोबल संकेत कमजोर नजर आ रहा है. एशिया पर दबाव देखने को मिल रहा है. SGX NIFTY में फ्लैट कामकाज हो रहा है. बॉन्ड यील्ड में उछाल से अमेरिकी मार्केट का मूड बिगड़ा है. कल DOW करीब 550 प्वाइंट फिसलकर बंद हुआ था. उधर कच्चे तेल में भी तेजी जारी है और ब्रेंट 90 डॉलर की तरफ बढ़ा है.

मंगलवार को बाजार में आखिरी कारोबारी घंटों में आई मुनाफावसूली के चलते 18 जनवरी के कारोबार में बेंचमार्क इंडेक्स 1 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुए. निफ्टी कल 18200 के नीचे फिसल गया. वहीं लगभग सभी सेक्टरों में आई बिकवाली के चलते सेंसेक्स ने 500 अंकों से ज्यादा का गोता लगाया.

फोकस में RELIANCE

Reliance Jio ने DoT को वक्त से पहले 30791 करोड़ रुपये चुकाए . सभी पुराने स्पेक्ट्रम बकाए का वक्त से पहले भुगतान किया है. कंपनी ने 2014, 2015, 2016 और 2021 में मिले स्पेक्ट्रम की पेमेंट की है. कंपनी को 585.3 MHz स्पेक्ट्रम मिला है. प्रीपेमेंट से कंपनी को सालाना 1200 करोड़ रुपये की ब्याज बचत की है.

IPO Update

AGS Transact Technologies का इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग (IPO) आज सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा. तीन दिन के इनिशियल शेयर-सेल का प्राइज बैंड 166-175 रुपए प्रति शेयर तय किया गया है, जो शुक्रवार, 21 जनवरी को बंद होगा. पेमेंट सॉल्यूशन प्रोवाइडर ने अपने इश्यू से पहले एंकर इनवेस्टर्स से 204 करोड़ रुपए जुटाए. यह साल 2022 का पहला पब्लिक इश्यू है. IPO पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल है, जिसमें एक प्रमोटर और दूसरे शेयर होल्डर्स की तरफ से 680 करोड़ रुपए के इक्विटी शेयरों की बिक्री की जाएगी.

क्रूड

कच्चे तेल का भाव 7 साल के शिखर पर पहुंच गया है. क्रूड का भाव 89 डॉलर प्रति बैरल के करीब पहुंच गया है. कच्चे तेल की कीमतों में आई यह तेजी ONGC, OIL, HOEC के लिए पॉजिटिव खबर है जबकि BPCL/HPCL/IOC, पेंट कंपनियों के लिए निगेटिव है. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतindia.news18.com
पिछला लेखवास्तु टिप्स : दक्षिण-पूर्व दिशा में न कराएं पीले रंग, होगी परेशानी
अगला लेखकैसे भगवान गणेश का एक दांत टूटा और क्यों पड़ा उनका नाम एकदंत?