Masik Shivratri 2021: भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए मासिक शिवरात्रि के दिन करें ये खास उपाय

माघ कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मासिक शिवरात्रि का व्रत रखा जाता है। हर माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मास शिवरात्रि व्रत किया जाता है। मास शिवरात्रि व्रत के दिन भगवान शंकर की पूजा उपासना की जाती है। हर माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को भोले बाबा की जय जयकार होती है और भोले बाबा अपने भक्तों से प्रसन्न होकर उनकी इच्छाएं पूरी करते हैं।

मास शिवरात्रि का व्रत करके और कुछ खास उपाय करके आपको भी लाभ उठाना चाहिए । आज अपनी परेशानियों का हल निकालने के लिये, जीवन में शुभ फलों की प्राप्ति के लिये, शत्रुओं से जल्द ही छुटकारा पाने के लिये, अपने परिवार की समृद्धि बनाये रखने के लिये, पुरानी उधेड़-बुन से बाहर निकलने के लिये और अपने अंदर नये विचारों का समावेश करने के लिये, दाम्पत्य जीवन पर लगी बुरी नजर से छुटकारा पाने के लिये, रिश्ते में पहले जैसा प्यार फिर से बहाल करने के लिये, पढ़ाई-लिखाई से संबंधित सभी परेशानियों का हल निकालने के लिये, परिवार के सदस्यों के बीच तालमेल बनाये रखने के लिये, कोर्ट-कचहरी से संबंधित परेशानियों का हल निकालने के लिये, अपने जीवन की गाडी को रास्ते पर लाने के लिये और उसकी गति को बनाये रखने के लिये, साथ ही अपने नये बिजनेस की सफलता सुनिश्चित करने के लिये और अपने बिजनेस में बढ़ोतरी के लिये क्या उपाय करने चाहिए, अब हम इस सबकी चर्चा करेंगे | यहां एक महत्वपूर्ण बात बता दूं कि- आज की ग्रह और नक्षत्र की स्थिति के अनुसार सभी लोग यह उपाय करके लाभ उठा सकते है।

अगर आपको कोई परेशानी है और आप उसका हल नहीं निकाल पा रहे हैं तो आज स्नान के बाद साफ कपड़े पहनकर घर के मन्दिर में ही भगवान शंकर के दर्शन करें और उन्हें दोनों हाथ जोड़कर प्रणाम करें । साथ ही भगवान शिव से अपनी समस्या के समाधान के लिए प्रार्थना करें |
अगर आप जीवन में शुभ फलों की प्राप्ति करना चाहते हैं तो आज अपने घर में या अपने मन्दिर में उत्तर दिशा की तरफ भगवान शिव की तस्वीर या कोई पोस्टर लगाएं, लेकिन ध्यान रहे कि भगवान शिव की तस्वीर को अपने बेडरूम में बिल्कुल न लगाएं। बेडरूम के अलावा आप अन्य किसी भी जगह पर भगवान की तस्वीर लगा सकते हैं।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

अगर आप अपने परिवार की समृद्धि बनाये रखना चाहते हैं तो आज स्नान के बाद साफ कपड़े पहनें। इसके बाद घर की उत्तर दिशा के एक कोने में अच्छे से साफ-सफाई करें। फिर गोबर, साफ, शुद्ध मिट्टी और राख को मिलाकर छोटा-सा शिवलिंग बनाएं। इस प्रकार शिवलिंग बनाने के बाद जब वह शिवलिंग थोड़ा सूख जाये तो उसकी विधि-पूर्वक धूप-दीप से पूजा करें। पूजा के बाद आज पूरा दिन उस शिवलिंग को ऐसे ही रखा रहने दें। अगले दिन शिवलिंग समेत बाकी सामग्री को किसी साफ बहते पानी के स्त्रोत में बहा दें।
अगर आपके अंदर कई पुरानी बातों को लेकर उधेड़-बुन चल रही हो और उससे बाहर निकलना चाहते है या अपने अंदर नये विचारों के समावेश के लिये आज आपको शिव तांडव स्त्रोत का श्रवण करना चाहिए, यानि सुनना चाहिए। आपको इसका ऑडियों आसानी से इंटरनेट पर उपलब्ध हो जायेगा। आप चाहें तो इसकी सीडी भी बाजार से खरीदकर अपने पास रख सकते हैं।
अगर आपको लगता है कि आपके दाम्पत्य जीवन को किसी की नजर लग गई है, जिसके कारण रिश्तों में अब पहले जैसा प्यार नहीं रहा है तो आज गाय के गोबर से बने एक कंडे, यानि उपले पर थोड़ी-सी गुग्गुल रखकर जलाएं। अब भगवान शिव के मंत्र- ‘ऊँ नमः शिवाय‘ का जाप करते हुए उस गुग्गुल से पूरे घर में धूप दिखाएं। धूप दिखाते हुए ‘ऊँ नमः शिवाय‘ बोलते जाये।

rgyan app

अगर आपको गुस्सा बहुत अधिक आता है और आप गुस्से में कुछ भी सोचने-समझने की हालत में नहीं होते हैं तो अपने गुस्से पर काबू पाने के लिये आज आपको एक लोटा जल लेना चाहिए और उसमें कुछ सफेद पुष्प डालने चाहिए। फिर इस पुष्प मिश्रित जल को शिवलिंग पर अर्पित करना चाहिए।
अगर आपको कोर्ट-कचहरी से संबंधित किसी प्रकार की परेशानी का सामना करना पड़ रहा है तो ऐसी स्थिति से बाहर निकलने के लिये आज मास शिवरात्रि के दिन आटे को गिला करके उसकी 21 गोलियां बनाएं। अब किसी पानी के स्त्रोत के पास जाकर जहां मछलियां आदि हों, आटे की गोलियां डाल दें।
अगर आपका जीवन तरक्की के रास्ते की ओर बढ़ता-बढ़ता बीच में कहीं अटक गया है और आपके जीवन की गाडी फिलहाल हिचकौले खा रही है तो फिर से अपनी गाडी को रास्ते पर लाने के लिये और उसकी गति को बनाये रखने के लिये आज गाय के बछड़े को, या बैल को अपने हाथों से हरा चारा खिलाएं।
अगर आप अपने नये बिजनेस की सफलता सुनिश्चित करना चाहते हैं तो आज स्नान के बाद आपको शिव चालीसा का पाठ करना चाहिए। शिव चालीसा का पाठ करने के लिये भगवान शिव के आगे देसी घी का दीपक जलाएं और वहीं भगवान की तस्वीर के आगे बैठकर ही शिव चालीसा का पाठ करें। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखAaj Ka Panchang 10 February 2021: मासिक शिवरात्रि व्रत, जानें बुधवार का पंचांग, शुभ मुहूर्त और राहुकाल
अगला लेखलव राशिफल 10 फरवरी 2021: आपके प्रेम और वैवाहिक जीवन के लिए कैसा रहेगा दिन