हैपिएस्ट माइंड्स IPO- लिस्टिंग पर मिलेगा डबल फायदा, अनिल सिंघवी से जानें क्या करें निवेशक

आईटी सर्विस प्रोवाइडर हैपिएस्ट माइंड्स टेक्नोलॉजी के आईपीओ (Happiest Minds Technologies IPO) की आज लिस्टिंग है. लिस्टिंग से पहले ही IPO ने शेयर बाजार में धूम मचाई हुई है. लोगों ने इसे खूब पसंद किया है. IPO 151 गुना सब्सक्राइब हुआ था. इसका प्राइस बैंड 165 से 166 रुपए प्रति इक्विटी शेयर तय किया गया है. हैपिएस्ट माइंड्स टेक्नॉलजी की तरफ से 110 करोड़ का फ्रेश शेयर इश्यू किया जा रहा है. कंपनी इस इश्यू से बाजार से 702 करोड़ रुपए जुटाने का टारगेट रखा है.

ज़ी बिज़नेस के मैनेजिंग एडिटर अनिल सिंघवी का मानना है कि इश्यू प्राइस के मुकाबले डबल पर लिस्टिंग हो सकती है. अनिल सिंघवी के मुताबिक ₹300-350 के बीच मजबूत लिस्टिंग की उम्मीद की जा सकती है. हालांकि, वैल्यूएशंस के लिहाज से महंगा हो जाएगा. लेकिन, पॉजिटिव रहिए. सिर्फ इसी IPO में पैसा नहीं बनना है. आने वाले दिनों में अच्छे मौके आएंगे. कई कंपनियों के IPO रेस में हैं. शॉर्ट टर्म निवेशक ₹250 का स्टॉपलॉस लगाएं और निकल जाएं. लगातार अपने स्टॉपलॉस को ट्रेल करते रहो. वहीं, लॉन्ग टर्म निवेशक बने रहें.

rgyan app

कंपनी ने इस आईपीओ के जरिए 702 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्‍य रखा है. कंपनी ने केवल 2.33 करोड़ शेयर ऑफर किए थे और बोली 351 करोड़ शेयर की लगी है. Happiest Minds का बिजनेस मॉडल काफी अच्छा है और इसका कॉम्पटिशन काफी कम है. यह कंपनी डिजिटल बिजनेस सर्विसेज, प्रोडक्ट इंजीनियरिंग सर्विसेज और इंफ्रास्ट्रक्चर मैनेजमेंट व सुरक्षा सेवाओं में कारोबार करती है. कंपनी का 75 फीसदी कारोबार अमेरिका से होता है. कंपनी ने पिछले साल बहुत ही शानदार प्रदर्शन किया था. आगे का आउटलुक भी अच्छा है.

कामयाबी के पीछे अशोक सूता

अनिल सिंघवी के मुताबिक, हैपिएस्ट माइंड्स के प्रमोटर अशोक सूता मार्केट के साथ कारोबार समेत कई क्षेत्रों के बहुत अच्छे जानकार हैं. वे आईटी इंडस्ट्री की तमाम टॉप कंपनियों को लीड कर चुके हैं. अशोक सूटा आईटी कंपनी माइंडट्री के को-फाउंडर, चेयरमैन और मैनेजिंग रहे हैं. अशोक सूता ने 1999 में के. नटराजन के और पार्थसारथी एनएस के साथ माइंडट्री शुरू की थी. इससे पहले वे विप्रो के वाइस चेयरमैन रह चुके हैं. आईआईटी-रुड़की से इंजीनियरिंग पूरी करने के बाद सूता ने रेफ्रिजरेशन इंडस्ट्रीज में काम की शुरूआत की थी. और अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here