Coronavirus: दिल्ली और महाराष्ट्र के बाद गुजरात में सबसे खराब हालात, सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार

कोरोना वायरस की बिगड़ती स्थिति के लिए सुप्रीम कोर्ट ने गुजरात सरकार की खिंचाई की है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि दिल्ली और महाराष्ट्र के बाद गुजरात में कोरोना को लेकर स्थिति सबसे खराब है, कोर्ट ने शादियों में इकट्ठा हो रही भीड़ को लेकर गुजरात सरकार को फटकार लगाई है। इस मामले पर अगली सुनवाई शुक्रवार को रखी गई है। आइए जानिए रामपुर शाही परिवार.

Not-satisfied-with-your-name-or-number

कोरोना के मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात और असम सरकार को 4 हफ्ते के अंदर स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि राज्य अपनी स्टेटस रिपोर्ट में बताएं कि उन्होंने कोरोना की रोकथाम के लिए क्या कदम उठाए हैं और क्या उठाने जा रहे हैं, कोर्ट ने राज्यों से यह भी कहा है कि स्टेटस रिपोर्ट में यह भी बताएं कि उन्हें केंद्र से क्या सहायता चाहिए। जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने कोरोना की बिगड़ती स्थिति के लिए दिल्ली और गुजरात की खिंचाई की है।

rgyan app

इन चारों राज्यों में कोरोना वायरस के सबसे अधिक एक्टिव मामले महाराष्ट्र में हैं जहां पर सोमवार सुबह तक 82521 एक्टिव कोरोना केस दर्ज किए गए हैं, इसके बाद 40212 मामलों के साथ दिल्ली, फिर 13600 मामलों के साथ गुजरात और 3142 मामलों के साथ असम है। हाल के दिनों में देश के कई राज्यों में कोरोना के नए मामले बढ़ने लगे हैं और स्थिति पहले के मुकाबले ज्यादा गंभीर नजर आ रही है। देशभर में कोरोना वायरस के अबतक 9139865 मामले दर्ज किए जा चुके हैं जिनमें 8562641 लोग ठीक हो चुके हैं और 133738 लोगों की जान जा चुकी है। सोमवार सुबह तक देशभर में कोरोना वायरस के 443486 एक्टिव मामले दर्ज किए गए हैं। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखरामपुर शाही परिवार की संपत्ति का मूल्य 2664 करोड़ रुपये आंका गया
अगला लेखब्रेकफास्ट में भूलकर भी ना खाएं ये 4 चीजें, बढ़ जाएगा और भी वजन