इस साल अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को अनुमति नहीं, DGCA ने रोक 31 दिसंबर तक बढ़ाई

नई दिल्ली। कोरोना को देखते हुए केंद्र सरकार ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर जो रोक लगाई हुई है उसे 31 दिसंबर तक बढ़ा दिया गया है, यानि 2020 में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का कमर्शिलय ऑपरेशन शुरू नहीं होने वाला है। गुरुवार को नागरिक उडयन महानिदेशालय (DGCA) की तरफ से इसको लेकर जानकारी दी गई है। DGCA ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को लेकर जो रोक लगाई गई है उसे 31 दिसंबर रात 11.59 बजे तक बढ़ा दिया गया है। हालांकि DGCA ने जिन अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को अनुमति दी हुई है उनके ऊपर और मालवाहक उड़ानों पर यह आदेश लागू नहीं होगा। आइए जानिए आतंकवाद का मुकाबला कर रहा है देश: PM मोदी.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer2

दुनियाभर में फैली कोरोना वायरस महामारी के चलते केंद्र सरकार ने जब पहली बार लॉकडाउन की घोषणा की थी तो उसके साथ अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर भी रोक लगा दी गई थी। भारत में 23 मार्च से अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ान सेवाएं बंद हैं। हालांकि, मई से ‘वंदे भारत मिशन’ के तहत और जुलाई से द्विपक्षीय ‘एयर बबल’ व्यवस्था के तहत कुछ देशों के लिए विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवाओं का परिचालन हो रहा है। बीच में सरकार ने विदेशों में फंसे भारतीयों की स्वदेश वापसी के लिए वंदे भारत मिशन शुरू किया था।

dgca

लॉकडाउन की घोषणा के साथ सरकार ने घरेलू उड़ानें भी रोक दी थी लेकिन अब ज्यादातर घरेलू उड़ानों का संचालन शुरू हो चुका है, हालांकि उड़ानों के लिए कुछ कोरोना गाइडलाइंस हैं और यात्रियों तथा उड़ानों को उन गाइडलाइंस का पालन करना जरूरी है। देश में घरेलू उड़ान सेवा करीब दो महीने तक बंद रहने के बाद 25 मई से दोबारा शुरू की गई थी। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखमुंबई हमले के जख़्म भारत भूल नहीं सकता, नई नीति के साथ आतंकवाद का मुकाबला कर रहा है देश: PM मोदी
अगला लेखदैनिक राशिफल 27 नवंबर: मेष और मिथुन समेत तीन राशि वालों को मिलेगी खुशियां, जानिए बाकी के लिए कैसा रहेगा दिन